‘तुझसे है राब्ता‘ का काॅन्सेप्ट खूबसूरत और दिलचस्प -सेहबान अज़ीम


लखनऊ। अपने शो ‘तुझसे है राब्ता‘ को प्रमोट करने पाॅपुलर एक्टर सेहबान अज़ीम आज लखनऊ पहुंचे। अज़ीम ने यहां शो से की विशेषताओं और खासियतों को मीडिया से साझा किया और नवाबों के शहर की तहतीब की खूब सराहना की। सेहबान अज़ीम ने कहा, ‘‘तुझसे है राब्ता एक बड़े ही खूबसूरत और दिलचस्प काॅन्सेप्ट पर आधारित है, और मैं इस शो का हिस्सा बनकर बेहद उत्साहित हूं। मैं इसमें मल्हार राणे नाम के एक पुलिसवाले का रोल कर रहा हूं, जो अपने काम के प्रति बेहद वफादार और ईमानदार है, लेकिन साथ ही वो काफी मिलनसार और प्यारा इंसान है। मल्हार की सादगी और उसके खुलेपन के चलते मैं इस किरदार से मजबूती से जुड़ जाता हूं, और इससे मुझे यह किरदार निभाने में आसानी हो जाती है। यह दूसरी बार है जब मैं पर्दे पर पुलिसवाले का रोल कर रहा हूं और मुझे वाकई इसका इंतजार है।‘‘ वे आगे बताते हैं, ‘‘मैं नवाबों के शहर में आकर बेहद उत्साहित महसूस कर रहा हूं। मैं यहां कुछ बोटी कबाब और मुगलाई खाने का मजा लेने वाला हूं।‘‘ इस शो में पूर्वा गोखले, रीम शेख, शगुन पांडे, पंकज विष्णु, सविता प्रभुने और कई अन्य कलाकार भी महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभा रहे हैं।
शो के लीड एक्टर सेहबान अज़ीम ने कहा कि कुछ रिश्ते ऐसे भी होते हैं जिनका कोई नाम नहीं होता, और ना तो वो खून से बंधे होते हैं न किसी कानून से। लेकिन वो रिश्ते सिर्फ इसलिए खास और अनूठे हो जाते हैं क्योंकि आप उन्हें गहराई से महसूस करते हैं। उन्होंने बताया कि ज़ी टीवी पर हाल ही में शुरू हुआ शो ‘तुझसे है राब्ता‘ दो औरतों के बीच मां-बेटी के ऐसे ही अनूठे और खट्टे-मीठे रिश्ते की प्यार भरी कहानी दिखा रहा है। अनुप्रिया और कल्याणी के बीच न तो खून का रिश्ता है और ना ही दोनों की एक दूसरे से कोई जान-पहचान है, लेकिन फिर भी ये दोनों एक खास रिश्ते में बंधे होते हैं। ‘तुझसे है राब्ता‘ का निर्माण फुल हाउस मीडिया ने किया है और इसका प्रसारण सोमवार से शुक्रवार रात 8.30 बजे ज़ी टीवी पर किया जा रहा है।
सेहबान अज़ीम ने बताया कि कल्याणी (रीम शेख) अपने मां-बाप की आंख का तारा है, लेकिन जल्द ही उसकी यह परफेक्ट फैमिली लाइफ ताश के पत्तों की तरह बिखर जाती है। एक दुर्घटना में उसकी मां माधुरी (आम्रपाली गुप्ता) की मौत हो जाती है और इसके लिए उसके पिता अतुल (पंकज विष्णु) को गिरफ्तार कर लिया जाता है। इसके बाद कल्याणी एक अनजान औरत की देखभाल में आ जाती है जिसका नाम है अनुप्रिया (पूर्वा गोखले)। दरअसल, अनुप्रिया को ही कल्याणी की देखरेख की जिम्मेदारी सौंपी जाती है लेकिन कहीं न कहीं कल्याणी के दिमाग में यह बात चल रही होती है कि अनुप्रिया ही उसके परिवार पर आई आफत के लिए जिम्मेदार है। ऐसे में कल्याणी, अनुप्रिया के घर में बिल्कुल नहीं रहना चाहती क्योंकि वो उससे पहले कभी नहीं मिली है और उसे यह भी शक है कि अनुप्रिया उसके पिता की रखैल है। ‘तुझसे है राब्ता‘ कल्याणी के इसी सफर को दिखाता है, जिसमें वो अपने परिवार को खो देने का बदला लेना चाहती है। उसकी अनुप्रिया से तीखी नोकझोंक होती है और वो उन्हें स्वीकार करने को तैयार नहीं है।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper