कछौना-घरेलू बिजली से व्यवसायिक ई-रिक्शा हो रहे चार्ज विभागीय जिम्मेदार अनजान

कछौना ।हरदोई14सितम्बर कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत सैकड़ो की संख्या में ई-रिक्शा कछौना चौराहा से स्टेशन तक धड़ल्ले से चल रहे हैं। इन मे से ज्यादातर ई रिक्शा चालक घरेलू विद्दुत कनेक्शन पर रोजाना अवैध तरीके से ई रिक्शा चार्ज कर रहे हैं। विद्दुत उपकेंद्र कछौना/बघौली के अधिकारियों/कर्मचारियों का, हो रही इस अवैध विद्दुत चोरी की तरफ कोई ध्यान नहीं है। मिली जानकारी के अनुसार ई रिक्शा चार्ज करने के लिए एक बैटरी में दो किलोवॉट बिजली की खपत होती है। इसलिए कॉमर्शियल विद्दुत कनेक्शन होना जरूरी हैं। जहाँ ग्रामीण क्षेत्र में सरकार द्वारा चलाई जा रही पॉवर फ़ॉर आल के उद्देश्य से सौभाग्य योजना के तहत निःशुल्क घरेलू विद्दुत कनेक्शन दिये गए हैं। ग्रामीण क्षेत्र में ई रिक्शा चालक रात में अवैध रूप से इन निःशुल्क घरेलू विद्दुत कनेक्शनों पर अपना-अपना ई रिक्शा चार्ज कर रहे हैं। इन रिक्शों में चार बड़ी बैट्री लगीं होती हैं। जिनको चार्ज करने में 4 से 5 घण्टे लगते हैं। *ऐसा ही एक मामला जसवंतपुर गांव का सामने आया है। इसी गांव के अवधेश कुमार फोर्थ क्लास में शिक्षा विभाग का सरकारी कर्मचारी हैं। जिन्होंने रुपये देकर अवैध रूप से बी०पी०एल० (निःशुल्क) विद्दुत कनेक्शन लगवा लिया है। जिस पर रात में विभागीय अधिकारियों/कर्मचारियों की मिलीभगत से धड़ल्ले से ई रिक्शा चार्ज कर रहे हैं।* विद्दुत विभाग के अधीक्षण अभियंता से बात करने पर बताया  घरेलू कनेक्शन पर ई रिक्शा चार्ज करने वाले चालकों पर जल्द अभियान चलाकर कॉमर्शियल में जुर्माना किया जायेगा।अधीक्षण अभियंता के अनुसार चोरी की बिजली से ई-रिक्शा चार्ज होने में डिवीजन कार्यालय को चेकिंग रिपोर्ट मिलते ही कॉमर्शियल में जुर्माना राशि तय होगी। एक रिक्शा में दो किलोवाट की चार बैटरी का उपयोग होता हैं।
=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper