नवजात को लावारिस छोड़ने के मामले ने पकड़ा तूल, अस्पताल प्रशासन पर लोगो ने उठाई उँगली

नवजात को लावारिस छोड़ने के मामले ने पकड़ा तूल, अस्पताल प्रशाशन पर लोगो ने उठाई उँगली

आरा(डिम्पल राय/वसीम)। शुक्रवार की सुबह जन्मे बच्चे को लावारिस हालात में आरा सदर अस्पताल के प्रसूति विभाग में छोड़े जाने के मामले ने तूल पकड़ लिया है एक ओर जहाँ लोग निर्दयी कलयुगी माँ पर बिन ब्यही माँ बनने सहित कई तरह का आरोप लगा रहे है तो वही लोग अस्पताल प्रशाशन पर भी उँगली उठाने लगे है। आस-पड़ोस के लोगो ने अप्रत्यक्ष तरीके से आशंका जताते हुए अस्पताल प्रशाशन पर आरोप लगाया है की बिगत लम्बे अरसे से आरा सदर अस्पताल में बिना रजिस्टर इंट्री या पुर्जे के महिला मरीजो की डिलेभरी को कराया जाता रहा होगा तभी तो अस्पताल प्रशाशन आज ही के जन्मे नवजात से उसकी पहचान छीन उसके माता-पिता का नाम छुपा उसे लावारिस बनाने पर तुला हुआ है। हालांकि इस संबंध में जब आरा सदर अस्पताल के प्रसूति विभाग में मौके पर मौजूद नर्स से बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने नवजात के भविष्य को दरकिनार करते हुए कलयुगी माँ के भविष्य का हवाला देते हुए इंट्री रजिस्टर नही दिखाने सहित कुछ भी कहने से इनकार कर दिया। आपको बताते चले कि शुक्रवार की सुबह आरा सदर अस्पताल के प्रसूति विभाग में नवजात को लावारिस अवस्था मे छोड़कर उसके परिजन भाग निकले थे जब काफी देर तक बच्चे के पास किसी के न पहुंचने पर आसपास मौजूद मरीज और उनके परिजनों को शक हुआ जिसके बाद नवजात के परिजनों की खोजबीन शुरू हुई लेकिन वो नही मिले उसके बाद वार्ड में मौजूद ममता ने तत्काल इसकी सूचना अस्पताल प्रबंधन को दी जिसके बाद प्रबंधन के निर्देश पर नवजात को एसएनसीयू वार्ड में भर्ती कराया गया। वहीं खबर लिखे जाने तक नवजात के परिजन कौन थे कहां से आये थे ये अस्पताल प्रशाशन द्वारा अबतक स्पष्ट नही किया गया था।

=>