महिला से गैंगरेप कर बेरहमी से पीटा, गांव में निर्वस्त्र घुमाया

हमीरपुर। उत्तर प्रदेश में भले ही महिला सुरक्षा के तमाम दावे किये जा रहे हों और योगी सरकार ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए कई हेल्पलाईन भी चलाई हों, लेकिन महिला सुरक्षा राम भरोसे दिखाई दे रही है। लगातार बढ़ रहे महिला उत्पीड़न पर रोक लगती नहीं दिखाई दे रही है। ताजा मामला यूपी के हमीरपुर जिला का है। यहां दबंगों का हैवानियत भरा चेहरा सामने आया है। आरोप है कि एक महिला से कुछ गुंडों ने घर में घुसकर गैंगरेप किया। विरोध करने पर महिला को बेरहमी से पीटकर मरणासन्न कर दिया। इतना ही नहीं हैवानों ने महिला के गुप्तांग पर डंडा मारकर चोटिल कर दिया। इससे भी जब दरिंदो का मन नहीं भरा तो महिला को निर्वस्त्र कर गांव में घुमाया गया। महिला की इज्जत लुटती रही और पूरा गांव तमाशबीन बना रहा। परिजनों ने दबंगो के चंगुल से महिला को बड़ी मुश्किल से मुक्त कराकर अस्पताल में भर्ती कराया है। यहाँ महिला की हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस ने इस संबंध में मुकदमा पंजीकृत कर मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है।

सुबह तड़के घर में घुसकर किया गैंगरेप

जानकारी के मुताबिक, मामला कुरारा थाना क्षेत्र के एक गांव का है। यहां गांव में रहने वाला एक परिवार मजदूरी करके अपने बच्चों का पेट पालता है। पीड़ित महिला कांति निषाद (नाम काल्पनिक) ने आरोप लगाया कि वह 28 जून को सुबह तड़के करीब 5:00 बजे अपने घर में सो रही थी। तभी गांव के रहने वाले छोटेलाल पंडित, कुंवर बहादुर सिंह, मदहू निषाद और लोधेराम निषाद घर की कुंडी खटखटाने लगे। महिला का पति घर में नहीं था तो उसने कुंडी खोलने से मना कर दिया। आरोप है कि इस दौरान दबंग दरवाजा तोड़कर घर में घुस गए और महिला से गैंगरेप करने लगे। आरोप है कि महिला ने जब इसका विरोध किया तो दबंगों ने उसे बेरहमी से पीटा। महिला ने आरोप लगाया कि दबंगों ने बर्बरता दिखाते हुए उसके गुप्तांग पर डंडा मारकर जख्मी कर दिया।

पुलिस पर गुंडों को संरक्षण देने का आरोप

महिला का आरोप है कि वह रहम की गुहार लगाती रही लेकिन दबंग बारी-बारी से उसके साथ दुष्कर्म करते रहे। महिला जब गुंडों के चंगुल से छूटी तो शोर मचाया। शोर सुनकर पड़ोसी दौड़े तो दबंग मुंह खोलने पर उसे निर्वस्त्र करके गांव में घुमाने की धमकी देकर चले गए। महिला का आरोप है कि जब उसने ये बात लोगों को बताई तो गुंडों ने 29 जून को उसे बेरहमी से पीटकर निर्वस्त्र करके गांव में घुमाया। पीड़िता का कहना है कि इस दौरान गांव वाले तमाशा देखते रहे लेकिन दबंगों के खिलाफ किसी ने आवाज नहीं उठा पाई। पीड़िता ने इसकी शिकायत पुलिस से की लेकिन पुलिस ने दबाव के चलते केवल मारपीट का केस दर्ज किया। आरोप है कि पुलिस दबंगों से मिली हुई है, इसलिए कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। आरोप है कि पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल तक नहीं कराया। वह अस्पताल में घायल अवस्था में पड़ी इंसाफ की गुहार लगा रही है।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper