संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी पर लटका मिला विवाहिता का शव

अमेठी। उत्तर प्रदेश के अमेठी जिला के शुकुल बाजार थाना क्षेत्र में एक विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। सूचना पर पहुंचे मायके वालों ने ससुराल वालों पर हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी है। जबकि मायके वाले इसे आत्महत्या का मामला बता रहे हैं। वही पुलिस मामला दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई में जुट गई है।

विवाहिता की संदिग्ध अवस्था में मौत
अमेठी में शुकुल बाजार थाना क्षेत्र के राजपूत धनेशा गांव में एक विवाहिता की संदिग्ध अवस्था में मौत का मामला सामने आया है। ससुराल वालों ने विवाहिता के मायके वालों को जानकारी दी कि विवाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। लेकिन मायके वालों ने विवाहिता की मौत के पीछे उसके ससुराल वालों को जिम्मेदार ठहराया है।

दहेज के लिए विवाहिता को मारने का आरोप
विवाहिता के पिता ने आरोप लगाया है कि दहेज के खातिर ससुरालीजनों ने उनकी बेटी की हत्या की है। उन्होंने बताया कि जब हम लोग अपनी बेटी को देखने पहुंचे तो उसके गले में रस्सी के गहरे निशान दिखे। जिससे साफ पता चल रहा है कि उसे बड़ी बेरहमी से मारा गया है।

ससुरालीजनों पर हत्या लगाया आरोप
फैजाबाद के कुमारगंज थाना मेवापुर पूरे गोसाई निवासी सत्य नारायण पुत्र मथुरा प्रसाद ने बताया कि उसने अपनी बेटी की शादी लगभग 4 साल पहले अमेठी के शुकुल बाजार थाना क्षेत्र के धनेशा राजपूत गांव के राजकुमार सुत द्वारिका प्रसाद के साथ की थी। सत्य नारायण ने आरोप लगाया कि उसकी बेटी को उसके ससुरालीजनों ने बहुत बेदर्दी गला दबा कर मार दिया है।

मामला दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई में जुटी पुलिस
वहीं, इस पूरे मामले पर थाना शुकुल बाज़ार शिवाकांत पाण्डेय ने बताया कि नीतू नाम की एक विवाहिता की संदिग्ध अवस्था में मौत का मामला सामने आया है। विवाहिता के मायके वालों ने तहरीर देते हुए आरोप लगाया है कि उसे ससुराल वालों ने हत्या की है। जिसके बाद राजकुमार पुत्र द्वारिका प्रसाद,द्वारिका प्रसाद शिवकुमार पुत्र द्वारिका प्रसाद, मालती पत्नी द्वारिका निवासी धनेशा राजपूत शुकुल बाजार पर 498 A,304 B,323,व 3/4 D.P. Act के तहत मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस पूरे मामले की तफ्तीश में जुटी है और मृतका की पोस्टमार्ट रिपोर्ट आने के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper