कुछ लोगों को प्रधानमंत्री की कुर्सी तक पहुंचने की जल्दी है : मोदी

शाहजहांपुर। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में किसान रैली को संबोधित करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर शनिवार को जमकर निशाना साधा। मोदी ने लोकसभा में लाए गए अविश्वास प्रस्ताव का जिक्र करते हुए कहा कि देश के कोने-कोने को मोदी पर विश्वास है, लेकिन कुछ लोगों को प्रधानमंत्री की कुर्सी तक पहुंचने की बहुत जल्दी है। मोदी ने कहा, “वक्त बदल चुका है। देश बदल चुका है। देश के नौजवान का मिजाज बदल चुका है। देश की बेटियां भी जाग चुकी हैं। लोकतंत्र के हर तंत्र को धमकाने की उनकी आदत, फॉर्मूला अब आगे काम नहीं आने वाला है।“
प्रधानमंत्री ने कहा कि पहले के एक प्रधानमंत्री ने कहा था, “केंद्र से एक रुपया निकलता है तो गरीबों तक 15 पैसा पहुंचता है, हम पूछते हैं कि उस वक्त देश में सिर्फ उन्हीं की सरकार थी फिर भी कौन-सा पंजा पैसा खा जाता था, लेकिन हमने इसे तोड़ कर दिखा दिया। हमने बिचौलियों का धंधा बंद करवा दिया, ऐसे में वे हमें हटाना चाहते हैं।“
मोदी ने कहा, “देश की आठ करोड़ दलित, वंचित महिलाओं को गैस का कनेक्शन मुफ्त में दिया गया। गरीबों को उनकी अपनी छत देने का काम किया जा रहा है। जनधन, आधार और मोबाइल के जरिए लाखों करोड़ों रुपये अब सीधे लाभार्थियों तक पहुंचे हैं।“
प्रधानमंत्री ने कहा, “अटल जी की सरकार ने ये योजना बनाई थीं, लेकिन उसके बाद की सरकार ने इस पर कछुए की चाल में काम किया। हमारी सरकार ने इस पर काम किया, जिससे किसानों को फायदा मिले। धान, मक्का, दाल और तेल वाली 14 फसलों के सरकारी मूल्य में 200 रुपये से 1800 रुपये कि बढ़ोत्तरी देश के इतिहास में कभी नहीं हुई।“
मोदी ने कहा, “गन्ने की पैदावार जब ज्यादा होती है तो किसानों का पैसा फंस जाता है। ऐसे में हमारी सरकार ने फैसला किया है कि गन्ने से एथनॉल बनाने का काम किया जाएगा। इससे गाड़ी चलेगी। इसके लिए गन्ने से एथनॉल बनाने और उसे पेट्रोल में मिक्स करने का निर्णय लिया गया। इस बार एथनॉल का उत्पादन चार गुना तक बढ़ेगा। एथनॉल बनाने में कोई नई तकनीक नहीं है। पिछली सरकार की नीयत ठीक नहीं थी। पिछली सरकार विदेशों से पेट्रोल लाती रही और यहां देश में किसान परेशान होते रहे।“
मोदी ने कहा, “अगर चीनी की रिकवरी प्रति कुंटल कम भी होती है तो भी पहले से 261 रुपये अधिक का भाव मिलेगा। देश के हर किसान परिवार के श्रम का सम्मान करने के लिए हमारी सरकार तत्पर है। देश के करीब पांच करोड़ गन्ना किसानों के हित में फैसले लिए गए हैं। गन्ना किसानों को उनका बकाया जल्द से जल्द मिले, इसके लिए अनेक उपाय किए गए हैं।“
प्रधानमंत्री ने कहा, “हाल ही में सरकार ने फैसला किया है कि आपको अब गन्ने पर लागत मूल्य के ऊपर लगभग 80 प्रतिशत सीधा लाभ मिलेगा। धान, मक्का, दाल व तेल वाली 14 फसलों के सरकारी मूल्य में 200 रुपये से 1800 रुपये की बढ़ोतरी इतिहास में पहले कभी नहीं हुई है।“
प्रधानमंत्री ने कहा, “किसानों के नाम पर घड़ियाली आंसू बहाने वाले भी ऐसा कर सकते थे, लेकिन उन्होंने नहीं किया। हमारी सरकार ने तय किया है कि इस बार आप जो गन्ना बेचेंगे, उसका लाभकारी मूल्य 20 रुपये बढ़ाकर 275 रुपये प्रति कुंतल कर दिया जाए।“
मोदी बोले, “सरकार ने पांच करोड़ गन्ना किसानों के लिए फैसला किया। पुरानी सरकारों ने दशकों से जो व्यवस्था बना रखी थी, जो गठजोड़ बनाए थे, उसे हम तोड़ने का प्रयास कर रहे हैं।“
मोदी ने कहा, “पिछले दिनों उप्र, पंजाब, राजस्थान, पश्चिम बंगाल में किसानों के बीच जाने का अवसर मिला। जहां भी गया, वहां किसानों ने जो आशीर्वाद दिया, उससे मैं अभिभूत हूं। कुछ दिन पहले देशभर के किसान, गन्ना किसान मुझसे मिलने दिल्ली आए थे। तब उनसे मैंने कहा था कि बहुत ही जल्द एक अच्छी खबर गन्ना किसानों को मिलेगी। आज यहां शाहजहांपुर में मैं वही वादा निभाने आया हूं।“
उन्होंने कहा कि सरकार ने फैसला किया है कि गन्ने के लागत मूल्य पर 80 प्रतिशत सीधा लाभ मिलेगा।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper