’हल्का’ से भारत को खुले में शौच मुक्त कराने की कोशिश : नील माधब पांडा

नई दिल्ली। फिल्म ’हल्का’ के निर्देशक नीला माधब पांडा ने कहा हमारी फिल्म खुले में शौच के मुद्दे से जुड़ी है और यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत मिशन के लिए हमारा ’छोटा सा योगदान’ है। पांडा ने एक कार्यक्रम में कहा, “यह हमारी टीम और हम सभी के लिए एक बहुत ही खास पल है। हमने इस फिल्म पर कड़ी मेहनत की है। हम अपने प्रधानमंत्री के आभारी हैं, जिनकी वजह से हम स्वच्छता की ओर पहुंचे है। इस कार्य के लिए यह फिल्म एक छोटा सा योगदान है।“

’कड़वी हवा’ और ’आई एम कलाम’ जैसी फिल्मों के लिए पहचाने जाने वाले निर्देशक ने कहा, “यह बहुत-ही खास फिल्म है जो सिर्फ मनोरंजन ही नहीं बल्कि एक अच्छा संदेश भी देती है। हम मंत्रालय और मंत्रियों के भी आभारी हैं जिन्होंने इस फिल्म को आगे बढ़ाने के लिए अत्यधिक समर्थन दिया है और जिसके माध्यम से हम देश के हर कोने तक पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं। हमें आशा है कि इससे देश में 100 प्रतिशत खुले शौचालय मुक्त होने में मदद मिलेगी।“

यह फिल्म सात सितंबर को रिलीज होगी।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper