बिहार में झूठी और भ्रामक खबरों पर रोक लगाने के लिए गठन होगा साइबर सेनानी-डीजीपी 

बिहार में झूठी और भ्रामक खबरों पर रोक लगाने के लिए गठन होगा साइबर सेनानी-डीजीपी 
 
>> थाना, अनुमंडल से लेकर जिला स्तर पर बनेगा ग्रुप ,सकारात्मक और सक्रिय होंगे मेंबर 
>> ग्रुप में सदस्यों की संख्या होगी थाने स्तर पर 100 और अनुमंडल स्तर पर 200 ,उम्र की सीमा 18 से कम नहीं 
 
पटना ( अ सं ) ।  बिहार में सोशल मीडिया ,खासकर वाट्सअप पर दुर्पयोग किया जा रहा हैं और झूठी खबरें और भ्रामक खबरें फैलाकर समाजिक समरस्ता बिगाड़ने का काम असमाजिक तत्वों द्वारा किया जा रहा हैं । सोशल मीडिया पर भ्रामक प्रचार -प्रसार रोकने के लिए बिहार के डीजीपी के एस द्विवेदी ने बीते गुरुवार को गाइड लाइन जारी करते हुये साइबर सेनानी गठित करने का निर्देश जारी किया हैं । 
डीजीपी द्वारा जारी आदेश के अनुसार साइबर सेनानी बिहार के प्रत्येक थाना ,अनुमंडल से लेकर जिला स्तर पर काम करेंगी । थाना स्तर पर बनाएं गये वाट्सअप ग्रुप में 100 सदस्य होंगे वही अनुमंडल स्तर पर बनाएं गये ग्रुप में 200 सदस्य होंगे ।वही जिला स्तर पर भी ग्रुप बनेंगे । ग्रुप की निगरानी डीएसपी ,एसपी ,डीआईजी और आईजी तक करेंगे ।  ग्रुप में विधायक ,चिकित्सक ,समाजसेवी, शिक्षक सहित सकारात्मक और सक्रिय व्यक्ति रहेंगे जो भ्रामक खबरों को रोकेंगे। 
डीजीपी द्वारा जारी निर्देश में यह भी कहां गया हैं की जो भ्रामक खबरें प्रचार -प्रसार करेंगे उनके विरूद्ध साइबर क्राइम का मामला दर्ज किया जाएगा । ग्रुप में 18 वर्ष से कम के ग्रुप मेंबर नहीं होंगे । आर्थिक अपराध इकाई ,मुख्यालय स्तर पर ग्रुप पर निगाह रखेगी ताकि इसका दुर्पयोग नहीं हो सके ।
 
=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper