लिफ्ट देने के बहाने दरिंदो ने विवाहिता को बनाया अपनी हवस का शिकार

अपराध संवाददाता

लखनऊ 10 अगस्त।बंथरा इलाके में गुरुवार शाम रिश्तेदारी से वापस घर लौट रही एक महिला को बाइक से घर छोडऩे का झांसा देकर तीन दरिंदों ने रास्ते में उसे सामूहिक दुराचार का शिकार बना डाला। महिला के शोर मचाने पर आरोपी मौके से भाग खड़े हुए। उनके चंगुल से छुट्टी महिला ने अपने पति को घटना से अवगत कराया और इसके बाद मामले की सूचना बंथरा पुलिस को दी। सामूहिक दुराचार वारदात की खबर मिलते ही पुलिस के हाथ पांव फूल गए और उसने आनन.फानन आरोपियों की तलाश शुरू कर दी। फिलहाल पुलिस ने इस मामले में रिपोर्ट दर्ज कर तीनों आरोपियों को हिरासत में लेने के साथ ही पीड़ित महिला को मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया है। मोहनलालगंज इलाके के भागूखेड़ा निवासी मजदूर मो जाबिर काल्पनिक नाम  के मुताबिक गुरुवार शाम करीब साढ़े 5 बजे वह बंथरा के खटोला गांव स्थित रिश्तेदारी से अपनी 45 वर्षीय पत्नी को साइकिल से लेकर वापस लौट रहा था। तभी बनी. मोहनलालगंज रोड स्थित ढाखे वीर मंदिर के पास दो बाइकों से निकल रहे खटोला गांव के ही बबलू रावत नीरज रावत और रिंकू रावत ने उससे उसकी पत्नी को बाइक से घर तक पहुंचाने की बात कही और बबलू ने उसकी पत्नी को अपनी बाइक पर बिठा लिया। जबकि मो जाबिर अपनी साइकिल से घर के लिए चल दिए। आरोप है कि बाइक सवार तीनों युवक कुछ दूर आगे गौशाला के पास महिला को जबरन सड़क किनारे जंगल में ले गए और बारी.बारी से उसके साथ दुष्कर्म किया। पीड़िता ने शोर मचाने की कोशिश की तो आरोपियों ने उसका मुंह दबाकर जान से मारने की धमकी देते हुए उसे चुप करा दिया। लेकिन इसी बीच किसी तरह मौका पाते ही पीड़ित महिला ने शोर मचा दिया। उसकी चीख पुकार मचते ही आरोपी वहां से भाग खड़े हुए। आरोपियों के जाने के बाद महिला भाग कर सड़क पर पहुंची और साइकिल से आ रहे अपने पति को घटना से अवगत कराया। घटना की जानकारी मिलने के बाद पीड़ित परिवार बंथरा थाने पहुंचा और पुलिस को नामजद तहरीर दी। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी बबलू नीरज और रिंकू को गिरफ्तार करते करते हुए पीड़िता को मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया है।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper