बस्ती में बच्चों के जिस्म का खून निकालने वाले खूनचुसवा गिरोह का खुलासा

लखनऊ। बस्ती में पुलिस ने खूनचुसवा गिरोह का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने गिरोह के सरगना एक डॉक्टर सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। यह गैंग बच्चों को पैसे और टॉफी का लालच देकर महरीखांवा मोहल्ले में नकली डॉक्टर प्रभाकर के घर ले जाते थे, जहां बच्चों को नशीला पदार्थ सुंघा कर बेहोश कर दिया जाता था, इस के बाद बच्चों के जिस्म का खून निकाला जाता था। शुरुआती पूछताछ में पता चला है कि यह गिरोह गरीब युवकों को 500 रुपये का लालच देकर हर माह उनके खून निकाला जाता था। वहीं बच्चों को लाने वालों को भी 500 रुपये कमीशन देते थे।

गिरोह का सरगना निम्न गुणवत्ता वाले इस खून की सप्लाई शहर के दो और संतकबीरनगर के एक प्राइवेट अस्पताल को करता था। ये अस्पताल अपने यहां भर्ती मरीजों को यही खून चढ़ा उनसे मोटी रकम वसूलते थे। इस गैंग में नेपाल का रहने वाला आकाश काक बच्चों को अपने जाल में फंसाता था।

खून का यह काला कारोबार काफी समय से चल रहा था, इस का खुलासा तब हुआ जब एक बच्चे ने पूरी कहानी अपने घर वालों को बताई, जिसके बाद पुलिस सक्रिय तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। मामला सामने आने के बाद पुलिस पर सवाल भी उठने लगे हैं कि आरोपियों को रिमांड पर लेकर विस्तार से पूछताछ और अस्पतालों पर छापेमारी क्यों नहीं की गई। एएसपी पंकज ने कहा कि पुलिस की टीम मामले की जांच कर रही है. टीम गिरोह की जड़ तक जाएगी।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper