विचार मित्र

समझिए चंदे के सियासी अर्थशास्त्र को !

Published at :18th January, 2019, 9:36 PMओमप्रकाश तिवारी लोकतंत्र में यह लगभग यक्ष प्रश्न है कि लोग यानी जनता अपने विवेक से अपना जनप्रतिनिधि चुनती है! ऐसा इसलिए है क्योंकि चुनाव के समय धनबल और बाहुबल से जनता को गुमराह और भ्रमित किया जाता है। प्रचार के माध्यम से इस इस तरह के दावे और वादों तथा झूठ का ऐसा ...

Read More »

कठिन है राजनीतिक उजालों की तलाश

Published at :18th January, 2019, 11:01 AM ललित गर्ग आगामी लोकसभा चुनाव के परिप्रेक्ष्य में गठबंधनों की राजनीति के नित-नये रंग उभर रहे हैं। सभी राजनीतिक दल चुनाव परिणामों की संभावनाओं की समीक्षा के पश्चात गलतियों को सुधारते हुए जीत को तलाशने में जुट गये हैं। अनेक विरोधाभासों एवं विसंगतियों के बीच राजनीतिक उजालों को तलाशा जा रहा है। सभी ...

Read More »

स्वामी विवेकानन्द ने बढ़ाई थी राष्ट्रीय प्रतिष्ठा

Published at :16th January, 2019, 10:31 AMडॉ दिलीप अग्निहोत्री ब्रिटिश दासता के समय वैश्विक मंचों पर भारत को उचित महत्व नहीं दिया जाता था। यह बात स्वामी विवेकानंद को आहत करती थी। उनका सोचना था कि भारत जैसी उदार और सहिष्णु सभ्यता अन्य कोई नहीं है। इसमें मानवता के कल्याण की कामना की गई है। इसी आधार पर भारत को ...

Read More »

2019 में मोदी-शाह भाजपा की ज़रूरत या मजबूरी ?

Published at :14th January, 2019, 11:09 AM तनवीर जाफ़री दिल्ली के ऐतिहासिक रामलीला मैदान में पिछले दिनों भारतीय जनता पार्टी का दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन आयोजित किया गया। भाजपा सूत्रों के मुताबिक इस अधिवेशन में देशभर से लगभग 12 हज़ार प्रतिनिधियों ने भाग लिया। इन में पार्टी के मंत्री,सांसद,विधायक,पदाधिकारी तथा कार्यकर्ता आदि सभी शामिल थे। इस अधिवेशन में जहां पार्टी ...

Read More »

सपनों की सुन्दरता पर यकीन करें

Published at :13th January, 2019, 11:11 AMललित गर्ग सफल जिंदगी के लिये चुनौतियां होना जरूरी है। कुछ चुनौतियों से आप आसानी से पार पा लेते हैं, पर कुछ आपसे खुद को बदलने की मांग करती हैं। कामयाबी इस पर निर्भर करती है कि आप कितने बेहतर ढंग से खुद को बदल पाते हैं? चुनौतियों से पार पाने के लिये जीवन ...

Read More »

सहिष्णुता को लेकर फिर चढ़ा देश का सियासी पारा

Published at :12th January, 2019, 2:06 PMबाल मुकुन्द ओझा सहिष्णुता पर एकबार फिर भारत में सियासत गरमा गयी है। इस बार कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी के देश से बाहर दिए एक भाषण से राजनीतिक पारा उफान पर है। संयुक्त अरब अमीरात के दौरे पर गए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भारत में असहिष्णुता का राग फिर छेड़ा और बीजेपी पर ...

Read More »

हकीकत के आईने में गौवंश संरक्षण

Published at :9th January, 2019, 11:38 AM निर्मल रानी नववर्ष की सर्वप्रथम कैबिनेट बैठक में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कई महत्वपूर्ण फैसलों को अपनी मंज़ूरी प्रदान की। इन फैसलों में एक महत्वपूर्ण फैसला गौवंश संरक्षण से भी संबंधित था। कहना गलत नहीं होगा कि देश के किसी भी राज्य द्वारा अब तक गौवंश संरक्षण हेतु इतने बड़े ...

Read More »

क्या चुनाव के लिए थी कांग्रेस की राफेल उड़ान

Published at :8th January, 2019, 11:23 AMडॉ दिलीप अग्निहोत्री अभी तीन राज्यों की चुनावी संख्या में कांग्रेस की जीत हासिल हुई, लेकिन चुनाव प्रचार में उठाये गए मुद्दे उंसकी नैतिक पराजय को उजागर करने वाले है। इसका खुलासा लंदन कोर्ट और भारतीय सुप्रीम कोर्ट के अलग अलग फैसले से हुआ। फ्रांस सरकार पहले ही कांग्रेस के आरोपों को झूठा बता ...

Read More »

56 ईंच का सीना और मीडिया से दूरी : यह कैसा अंतर्विरोध?

Published at :7th January, 2019, 11:11 AM तनवीर जाफ़री 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है। पिछले दिनों 2019 से पहले हुए विधानसभा चुनावों के परिणाम जिन्हें लोकसभा 2019 का सेमीफाईनल कहा जा रहा था, आ चुके हैं। इन परिणामों में उत्तर भारत के तीन बड़े राज्य मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ भारतीय जनता पार्टी के हाथों ...

Read More »

सांसदों का अशालीन आचरण कब तक?

Published at :6th January, 2019, 11:24 AM ललित गर्ग संसद राष्ट्र की सर्वोच्च संस्था है। देश का भविष्य संसद के चेहरे पर लिखा होता है। यदि वहां भी शालीनता एवं सभ्यता का भंग होता है तो दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र होने के गौरव का आहत होना निश्चित है। सात दशक के बाद भी भारत की संसद सभ्य एवं शालीन ...

Read More »
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper

Responsive WordPress Theme Freetheme wordpress magazine responsive freetheme wordpress news responsive freeWORDPRESS PLUGIN PREMIUM FREEDownload theme free