अब रेलवे में इंडिगो व स्पाइस जेट की इंट्री!

प्लेन के बाद  टेन चलाने में दिखायी रुचि

लखनऊ जंक्शन से नियमित चल रही है देश की पहली प्राइवेट टेन तेजस

नई दिल्ली । हवाई सेवा के बाद अब देश की प्रमुख दो प्राइवेट कंपनी स्पाइस जेट व इंडिगो की इंट्री आने वाले दिनों में रेल सेवा सेक्टर में हो सकती है। रेलवे से जुडे विश्वस्त सूत्रों की मानें तो इसके मद्देनजर सीनियर रेल अफसरों व उक्त कंपनी प्रतिनिधियों के बीच प्रारंभिक स्तर की बातचीत चल रही है। रेलवे में प्राइवेट सेक्टर को कुछ चिन्हित व प्रमुख रूटों की रेल संचलन सेवा कॉन्टैक्ट आधार पर दिये जाने की कवायद तेजी के साथ चल रही है। इस कड़ी में कुछ ही दिनों पहले राजधानी के लखनऊ जंक्शन रेलवे स्टेशन से देश की पहली कॉरपोरेट यानि प्राइवेट टेन तेजस को हरी झंडी दिखायी गई। उसी दौरान तेजस के उद्घाटन समारोह में सीएम योगी ने रेलवे में ढांचागत विकास व बेहतर यात्री सुविधाओं के मद्देनजर यह भी कहा था कि लखनऊ सहित वाराणसी और गोरखपुर लाइनों के बीच सेमी बुलेट टेनों का संचालन तेजस के तर्ज पर शुरू किया जाना चाहिये ताकि लोगों का कीमती समय बच सके। साथ ही यह भी कहा था कि प्रदेश में उपरोक्त प्रोजेक्ट के लिए राज्य सरकार रेलवे को नि:शुल्क जमीन भी मुहैया करा सकती है।

बहरहाल, चर्चायें तो यह भी प्रमुखता के साथ सुनाई पड़ रही हैं कि केंद्र सरकार के दिये गाइडलाइन के तहत और नीति आयोग के देखरेख में रेलवे ने देश-प्रदेश के प्रमुख 150 टेनों और 50 रेलवे स्टेशनों को भी प्राइवेट हाथों में सौंपने की तैयारी लगभग पूरी कर ली है। रेलवे जानकारों के अनुसार इसी क्रम में हवाई सर्विस सेक्टर की दो प्रमुख कंपनियों क्रमश: स्पाइस जेट और इंडिगो ने उक्त रेल प्रोजेक्ट में रुचि दिखाना शुरू कर दिया है। वहीं पब्लिक ट्रांसपोर्ट सेक्टर से जुडे कुछ विशेषज्ञों के मुताबिक चूंकि स्पाइस जेट और इंडिगो जैसी हवाई सेवा की दोनों कंपनियों का हवाई यात्रा के मामले में इस सेक्टर के मीडिल और अपर मीडिल क्लास पैसेंजरों पर अच्छी पकड़ है, ऐसे में प्राइवेट तर्ज पर शुरू किये गये रेलवे की उपरोक्त परियोजना में बेहतर संभावनाओं को लेकर दोनों काफी उत्साहित हैं।

See also  यूपी में अब तक 18.88 लाख मीट्रिक टन हुई गेहूँ की खरीद