UKADD
Monday, October 25, 2021 at 4:27 PM

गाजियाबाद,ट्रेन से उतरी महिला को अगवा कर सामूहिक रेप 

   गाजियाबाद,ट्रेन से उतरी महिला को अगवा कर सामूहिक रेप
गाजियाबाद। सिहानीगेट थाना क्षेत्र में रेलवे ट्रैक के पास खींचकर दो युवकों ने महिला से सामूहिक दुष्कर्म किया। महिला मायके से घर लौट रही थी।परिजनों ने दोनों आरोपियों को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने दुष्कर्म की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर जेल भेज दिया है।सिहानीगेट थाना क्षेत्र की रहने वाली 28 वर्षीय महिला का शाहदरा में मायका है।महिला रविवार की शाम करीब सात बजे गाजियाबाद नया रेलवे स्टेशन पर उतरकर पैदल ही रेलवे ट्रैक के बराबर से घर जा रही थी। इसी दौरान पीछे से दो युवक आए और उन्होंने महिला को पकड़ लिया।कपड़ा ठूंस कर उसे रेलवे ट्रैक के पास अंधेरे में सुनसान इलाके में ले गए।विरोध करने पर आरोपियों ने महिला के साथ जमकर मारपीट की, उसके बाद महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।महिला के द्वारा चिल्लाने पर जान से मारने की धमकी दी। किसी तरह पीड़िता ने घर पहुंचकर परिवार वालों को घटना की जानकारी दी। परिवार के लोग महिला को साथ लेकर तत्काल घटना स्थल पर पहुंचे और आसपास युवकों की तलाश कर दी।कुछ ही दूरी पर दोनों आरोपी घूमते हुए नजर आए।महिला ने दोनों को पहचान लिया।महिला के परिजनों ने पहले दोनों आरोपियों की जमकर
धुनाई की, उसके बाद उन्हें सिहानीगेट थाने में ले आए।पुलिस को तहरीर दी।पुलिस ने दुष्कर्म की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर महिला को मेडिकल के लिए भेज दिया है।सिहानीगेट थाना प्रभारी संजय पांडेय ने बताया कि महिला की तहरीर पर दो आरोपी पंकज और संतोष के खिलाफ दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज करली गई है। दोनों को जेल भेज दिया गया है।महिला ने की थी भागने की कोशिश पुलिस के अनुसार पहले महिला के साथ आरोपियों ने छेड़छाड़ की थी। उसके बाद महिला ने वहां से भागने की कोशिश की तो अकेला देखकर उसका मुंह दबा दिया और कपड़ा ठूंस दिया पीड़ित को उठाकर ट्रैक के पास अंधेरे में ले गए। महिला ने काफी हाथ पैर मारे, लेकिन आरोपियों पर उसका कोई असर नहीं पड़ा।महिला को जाते समय धमकी दी कि अगर इस सब के बारे में बताया तो हत्या कर देंगे।महिला किसी तरह वहां से जान बचाकर भागी।रोड पर रहती है चहल-पहल, फिर भी नहीं पड़ी किसी की नजर नया रेलवे स्टेशन के आसपास दोनों तरफ रोड पर हर समय लोग आते-जाते रहते हैं।फिर भी महिला को उठाकर ले जाते समय कोई देख नहीं सका।करीब एक घंटे तक महिला दोनों आरोपियों के चंगुल में फंसी रही। उसने कई बार भागने की कोशिश की, लेकिन वह सफल नहीं हो सकी। महिला के विरोध करने पर बदमाशों ने उसकी जमकर पिटाई की।लूटपाट नहीं था अपराधियों का मकसद महिला के पास मोबाइल और चेन भी थी, लेकिन आरोपियों ने कुछ भी नहीं छीना। दुष्कर्म करने के बाद छोड़ दिया। पुलिस का मनना है कि आरोपियों का मकसद लूट करना नहीं था।वह महिला को दुष्कर्म करने के लिए उठाकर ले गए थे। यदि वह लूट के इरादे से आते तो पहले मोबाइल और चेन व रुपये लूटकर ले जाते।