Monday, December 6, 2021 at 5:04 AM

झूलेलाल वाटिका में लगेगा दीपावली मेला

लखनऊ, 21 अक्टूबर। राजधानी में परंपरागत रूप से दीपावली के अवसर पर बड़ी संख्या में आम जनमानस द्वारा घरेलू उपयोग की विभिन्न वस्तुओं का क्रय किया जाता है। साथ ही त्यौहार के अवसर को उल्लासपूर्वक मनाए जाने के परिप्रेक्ष्य में स्थानीय स्तर पर विभिन्न मनोरंजनात्मक गतिविधियां क्रियान्वयन होती हैं। इन्हें सुरक्षित एवं व्यवस्थित तरीके से आयोजित किए जाने के लिये अपर मुख्य सचिव नगर विकास विभाग, उत्तर प्रदेश शासन के शासनादेश 13 अक्टूबर को निर्देशित कर दिया था कि उक्त अवसर पर स्ट्रीट वेंडर,पथ विक्रेताओं को सामग्री विक्रय कर अपनी आय अतिरिक्त रूप से बढ़ाने हेतु स्थानीय स्तर पर नियोजित रूप से एक प्लेटफार्म आकर्षक मेले के आयोजन के माध्यम से उपलब्ध कराते हुए अंतर्निहित उद्देश्य के दृष्टिगत लखनऊ नगर निगम द्वारा दीपावली मेले का भली-भांति आयोजन कराया जायेगा। कार्यक्रम का आयोजनगोमती नदी तट स्थित झूलेलाल वाटिका नदवा कॉलेज के सामने स्थल चयनित किया गया जिसमें सांस्कृतिक मनोरंजात्मक तथा त्यौहार के अवसर पर जनसमूह की सहभागिता हेतु विभिन्न गतिविधियों का संचालन किया जायेगा। उक्त गतिविधियों यथा पटरी विक्रेताओं हेतु उपयुक्त स्थल, फूड स्टॉल, मनोरंजन के झूले आदि व सांस्कृतिक गतिविधिया आदि विभिन्न व्यवस्थाएं की जायेगी। मेले में अधिक से अधिक संख्या मे नागरिकों को एकत्रित करने के लिए आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन प्रतिदिन किया जायेगा। इसमें दिवसवार बॉलीवुड नाइट प्रसिद्ध गायकों द्वारा , कॉमेडी नाइट, अवध संध्या के अंतर्गत लोक गायन, विख्यात कवियों द्वारा कवि सम्मेलन, भजन संख्या, फूलो की होली तथा प्रमुख आकर्षण के रूप में दीपावली के संदर्भ में राम के अयोध्या आगमन के विषय पर भव्य लेजर शो का आयोजन किया जायेगा। मेले के अंतिम दिवस में फायरक्रैकर पटाखों का शो किया जायेगा। दीपावली के दिवस पर कान्हा उपवन के गोबर से बने दिये को भारी संख्या में प्रज्वलित किया जायेगा। उपरोक्त कार्यक्रमों के माध्यम से अधिक से अधिक से नागरिकों के एकत्रित करने के साथ-साथ स्थानीय व उभरते हुए टैलेंट को उचित मंच देने का प्रयास किया जायेगा। दीपावली मेले में प्रत्येक जोन से 100-100 स्ट्रीट वेंडर्स के स्टॉल अर्थात 800 स्टॉल तथा अन्य व्यावसायिक स्टॉल भी लगाये जायेगे। मेले में स्ट्रीट वेंडर्स के हितार्थ भी विभिन्न कार्य किए जाने की व्यवस्था की जाएगी जिसमें स्टॉल लगाकर पीएम स्वनिधि का ऋण प्रदान करना, श्रम विभाग में रजिस्ट्रेशन करना, स्वनिधि से समृद्धि कार्यक्रम के अंतर्गत विभिन्न विभागों 8 सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने जाने का कार्य किया जायेगा। इसके अतिरिक्त विभिन्न बैंकों के स्टॉल लगाये जायेगे जिसके द्वारा स्ट्रीट वेंडर्स के साथ-साथ अन्य नागरिकों को डिजिटल बैंकिंग के बारे में शिक्षित किया जायेगा तथा डिजिटल भुगतान के प्रयोग को प्रेरित किया जायेगा।