UKADD
Monday, October 25, 2021 at 4:18 PM

मुज़फ्फरनगर में हिंसा पीड़ितों के परिजनों से प्रियंका वाड्रा ने की मुलाकात

मुजफ्फरनगर। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मुजफ्फरनगर में सीएए के खिलाफ हुए प्रदर्शन के बाद हिंसा के शिकार हुए पीड़ित परिवारों से मुलाकात कीं। मुज़फ्फरनगर में उन्होंने मौलाना असद रज़ा हुसैनी से मुलाकात की।
प्रियंका ने बताया कि मौलाना असद रज़ा मुज़फ्फरनगर के नामचीन लोगों में से हैं, देश-विदेश में शिक्षा जगत में उनका नाम बड़े अदब से लिया जाता है। वे गरीब और अनाथ बच्चों को मुफ़्त में मदरसे में शिक्षा देते हैं। पुलिस ने उनको बुरी तरह से पीटा है। उनके हाथ तीन जगह से बुरी तरह टूट गए हैं। मदरसे से पुलिस 17 बच्चों को उठा कर ले गयी, जिसमें से ज्यादातर नाबालिक बच्चें हैं। गिरफ्तार किए गए बच्चों को भी पुलिस ने बर्बर तरीके से मारा पीटा है। अभी भी ज्यादातर बच्चे हिरासत में हैं। मौलाना असद रजा का मेडिकल तक नहीं हुआ है।
प्रियंका ने हिंसा में मारे गए नूर मोहम्मद की पत्नी सन्नो से खाला पार्क दक्षिण में उनके घर पर मुलाकात कीं। उन्होंने बताया कि नूर मोहम्मद दिहाड़ी मजदूर थे और अपने घर में इकलौते कमाने वाले थे। उनके मां-बाप की पहले ही मौत हो चुकी थी। मारे गए नूर मोहम्मद की पत्नी सन्नो के पेट में सात माह का बच्चा है। घर पर बाप की राह जोह रही 15 माह की बेटी है। नूर मोहम्मद की मौत का एफआईआर जबरन पुलिस ने अज्ञात के नाम दर्ज कर दिया। अभी तक उनकी बेवा सन्नो पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के लिए ऑफिसों का चक्कर लगा रहीं हैं।
प्रियंका ने रुकैया परवीन से मुलाकात कीं। रुकैया और उनकी बहन की फरवरी में शादी है। उनके घर पर पुलिस रात के वक्त पहुंची और पूरे घर में तोड़फोड़ मचा दी। परिजनों का आरोप है कि दहेज का सामान और कैश भी पुलिस लूट कर ले गयी। रुकैया परवीन ने जब गिड़गिड़ाते हुए पुलिस से गुजारिश की तो पुलिस ने उनके साथ मारपीट की। पुलिस ने इतनी बुरी तरह से पीटा है कि उसके सर में 16 टांके लगे हैं।
प्रियंका गांधी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि जहां जहाँ अन्याय हुआ है हम वहां खड़े होंगे। उन्होंने नूर मोहम्मद की पत्नी सन्नो के बारे में कहा कि बड़ी दर्दनाक दर्दनाक स्थिति है। 22 साल की लड़की 7 माह की प्रैग्नेंट है। गोद में छोटी सी बच्ची है। उसके पति नूर मोहम्मद को हिंसा में मार दिया गया। वह एकदम अकेले है।
उन्होंने कहा कि अगर कोई हिंसा किया है तो पुलिस कार्यवाही करे, उसमें किसी को कोई आपत्ति नहीं है। लेकिन पुलिस खुद घर में घुसकर मारपीट कर रही है। एक लड़की की शादी होने वाली थी उसके यहां मारपीट हुई है। तोड़फोड़ हुई है। उस लकड़ी को भी मारा पीटा है, उसके सर में 16 टांके लगे हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस का काम क्या है जनता की सुरक्षा और न्याय दिलाना लेकिन यहां तो उल्टा हुआ है तो जहां-जहां उल्टा हुआ है उसके खिलाफ हम लड़ेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *