Thursday, September 23, 2021 at 6:00 AM

आजम खान की मुश्किलें बढ़ीं, सीतापुर जेल से विशेष अदालत ने किया तलब

 

 

मुरादाबाद :एमपी-एमएलए की विशेष अदालत ने आरोपी सांसद आजम को जयाप्रदा पर अभद्र टिप्पणी मामले में जेल से तलब करने के लिए रिमाइंडर भेजा है। आजम इस समय सीतापुर जेल में बंद है। बुधवार को केस की जांच कर रहे क्राइम ब्रांच के विवेचक की ने इस संबंध में प्रार्थना पत्र दिया था। दूसरी तरफ इस विशेष अदालत में छजलैट बवाल केस में भी सुनवाई होनी थी लेकिन शोक सभा के चलते छजलैट बवाल और जया प्रदा केसों की सुनवाई टल गई। अब इस केसों की सुनवाई 10 दिसंबर को होगी।

पूर्व सांसद जया प्रदा पर अभद्र टिप्पणी का मामला 30 जून, 2019 का है। रामपुर सीट पर आजम खां की जीत की खुशी में मुरादाबाद में एक सम्मान कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इसमें जयाप्रदा पर भाषण के दौरान नेताओं ने अभद्र टिप्पणी की थी। इस पर आजम खां व मुरादाबाद के सांसद समेत तमाम सपाइयों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। मामले की जांच क्राइम ब्रांच कर रही है। इसकी सुनवाई एमपी-एमएलए की विशेष अदालत एडीजे पुनीत गुप्ता की कोर्ट में हो रही है। बुधवार को विवेचक विजेन्द्र कुमार ने आरोपी आजम खां को जेल से तलब करने का प्रार्थना पत्र दिया जिस पर विशेष कोर्ट ने सीतापुर जेल से आरोपी आजम खां को तलब करने के आदेश दिए। कोर्ट में राज्य सरकार की ओर से अपर जिला शासकीय अधिवक्ता मुनीश भटनागर ने बताया कि आरोपी जेल में बंद है। लिहाजा कोर्ट ने जेल से तलब करने के लिए रिमाइंडर जारी किया है।

इसके अलावा एमपी एमएलए कोर्ट में छजलैट बवाल मामले में भी सुनवाई की तारीख थी पर अधिवक्ता के निधन के चलते न्यायिक कार्य स्थगित हो गया। कोर्ट में बवाल में आरोपी आजम व बेटे अब्दुल्ला की पेशी थी। बवाल केस में दोनों पर कोर्ट में चार्ज आरोपित होने है। मगर किसी न किसी वजह से सुनवाई टल रही है। आरोपी आजम को आज भी कोर्ट में न पेश किया जा सका। बचाव पक्ष के अधिवक्ता शाह नवाज सिब्तैन का कहना है कि छजलैट के दो और जया प्रदा केस की सुनवाई अब 10 दिसंबर को निश्चित हुई है।

मुरादाबाद में एमपीएमएलए की विशेष कोर्ट अब गैंगस्टर मामलों की भी सुनवाई करेगी। एडीजे पुनीत गुप्ता विशेष कोर्ट के न्यायाधीश होंगे। अपर जिला शासकीय अधिवक्ता मुनीश भटनागर का कहना है कि गैंगस्टर की भी विशेष कोर्ट है। शासन स्तर से एमपीएमएलए की विशेष कोर्ट को ही गैंगस्टर केसों की सुनवाई करने का अधिकार दिया गया है। बुधवार को गैंगस्टर की अदालत में ही छजलैट व जया प्रदा केस की सुनवाई हुई।

Loading...