Main Sliderराष्ट्रीयशिक्षा—रोजगार

JNUSU नतीजे: लेफ्ट ने मारा चौका, ABVP चारोखाने चित्त


नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) छात्रसंघ चुनाव में नतीजे घोषित हो गए हैं और लेफ्ट गठबंधन ने क्लीन स्वीप करते हुए चारों पदों पर बड़ी जीत हासिल की है. चारों ही सीटों पर एबीवीपी दूसरे स्थान पर रहा. अध्यक्ष पद की दौड़ में लेफ्ट गठबंधन के उम्मीदवार एन. एस. बालाजी सबसे आगे निकल गए और उन्होंने एबीवीपी के ललित पांडे के मुकाबले दोगुने से भी ज्यादा वोट हासिल किए।

ये रहा फाइनल रिजल्ट (कुल वोट- 5185)

अध्यक्ष
एबीवीपी: 972
लेफ्ट गठबंधन: 2151

उपाध्यक्ष
एबीवीपी: 1013
लेफ्ट गठबंधन: 2592

महासचिव
लेफ्ट गठबंधन: 2426
एबीवीपी: 1235

संयुक्त सचिव
लेफ्ट गठबंधन: 2047
एबीवीपी: 1290

इससे पहले इलेक्शन कमेटी ने शनिवार सुबह काउंटिंग एरिया में ‘जबरन प्रवेश’ और ‘बैलेट पेटियों को छीनने के प्रयासों’ का हवाला देकर वोटों की गिनती रोक दी थी। वोटो की गिनती शुरू होने की जानकारी न मिलने का दावा करते हुए एबीवीपी ने प्रदर्शन किया।

आरएसएस के छात्र संगठन एबीवीपी ने चुनाव अधिकारियों पर वामपंथी संगठनों के साथ पक्षपात करने का आरोप लगाते हुए अदालत जाने की धमकी दी. इसके बाद 12 घंटे तक वोटों की गिनती रोक दी गई। लेफ्ट और एबीवीपी, दोनों ही संगठनों ने एक दूसरे पर हिंसा का आरोप लगाया था।

हिमांशु कुलश्रेष्ठ, चेयरपर्सन, इलेक्शन कमेटीकाउंटिंग 14 सितंबर को रात करीब 10 बजे शुरू हुई लेकिन उसे अब रोक दिया गया है क्योंकि एबीवीपी के सदस्य जबरदस्ती काउंटिंग एरिया में घुस आए और उन्होंने बैलेट बॉक्स को छीनने की कोशिश की। अपने प्रेसिडेंट और जॉइंट सेक्रेटरी उम्मीदवारों संग मिलकर एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने हिंसा की और यहां तक की हमारी महिला सदस्यों के साथ भी बदसलूकी की।

loading...
Loading...

Related Articles

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com