उत्तर प्रदेश

सिपाहियों ने युवक को मारी गोली, फिर हादसे का हुआ शिकार

 

इलाज के दौरान तोड़ा दम, हत्या का मामला दर्ज

अपराध संवाददाता

लखनऊ 29 सितम्बर। कभी फर्जी गुड वर्क तो कभी बेगुनाहो को जेल भेजने वाली लखनऊ पुलिस के नए कारनामे ने एक बार फिर पुलिस महकमे को शर्मसार कर दिया। जनता की रक्षक कही जाने वाली पुलिस ही हत्यारी बन बैठी और एक युवक की हत्या कर दी। मामला गोमतीनगर क्षेत्र में आज रात से जुड़ा हुआ है। एक निजी कंपनी में काम करने वाली सना ने बताया कि वह अपने कलीग विवेक उर्फ विनय तिवारी के साथ कार से जा रही थी। सीएमएस गोमतीनगर के पास कार खड़ी थी। तभी सामने से दो सफेद अपाचे सवार पुलिसकर्मी आये। कार को रोकने के लिए इशारा किया जिस पर कार रोक दी। इतने में एक सिपाही ने अपनी सरकारी पिस्टल से विवेक को गोली मार दी। गोली लगने से वह घबराया और गड़ी भगा दी। भागम भाग में आगे जाकर कार हादसे का शिकार हो गईं। दोनो पुलिसकर्मी गोली मारने के बाद अपनी बाइक वही छोडककर फरार हो गए। गंभीर अवस्था मे विवेक को लोहिया पहुंचाया गया जहां उनकी मौत हो गई। पुलिस ने शव को पीएम के लिए भेजा है। एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि अज्ञात सिपाहियों के विरुद्ध हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है। सिपाहियों की पहचान भी हो गईं है और फिलहाल वो हिरासत में है। अपडेट के लिए इंतज़ार करे…….

loading...
Loading...

Related Articles