Main Sliderराष्ट्रीय

आगामी पांच विधानसभा चुनाव में योगी होंगे भाजपा के स्टार प्रचारक

लखनऊ। पांच विधानसभा के हो रहे चुनाव में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ भारतीय जनता पार्टी की ओर से स्टार प्रचारक होंगे। श्री योगी के साथ ही उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, डा. दिनेश शर्मा और कुछ वरिष्ठ मंत्री भी पार्टी की ओर से इन राज्यों के चुनाव में महत्वपूर्ण भूमिका में होंगे। राजस्थान, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम विधानसभा का चुनाव अगले महीने प्रस्तावित है।
भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की मुख्यमंत्री आवास पर इस सम्बन्ध में विचार विमर्श भी हुआ है। पार्टी ने इससे पहले हुये विधानसभा चुनाव में श्री योगी को स्टार प्रचारक के रुप में कर्नाटक और गुजरात भेजा था। दोनों प्रदेशों में योगी की रैलियों में काफी भीड़ आती थी।
पार्टी सूत्रों के अनुसार श्री योगी की उन क्षे़त्रों में अधिक सभायें करायी जायेंगी, जहां उत्तर प्रदेश के लोगो की संख्या ज्यादा होगी। नाथ सम्प्रदाय के साधुओं के इलाकों में भी श्री योगी की सभायें करायीं जायेंगी। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में सभायें करायी जा सकती हैं।
इससे पहले पिछले वर्ष श्री योगी की केरल के बाद गुजरात की हुई ताबड़तोड़ यात्रा से साफ है कि संगठन उन्हें सिर्फ उत्तर प्रदेश तक ही सीमित नहीं रखना चाहता। श्री योगी अपने पहनावे की वजह से बिना कुछ कहे हिन्दुत्व का संदेश दे देते हैं। भाजपा इसी वजह से एक सोची समझी रणनीति के तहत उन्हें कई अन्य राज्यों में लगातार भेज रही है। वह पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की ’जन रक्षा यात्रा’ में शामिल होने के लिये भी केरल गये थे। पहनावे की वजह और महत्वपूर्ण राज्य उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री होने के कारण वह वहां आकर्षण का केन्द्र रहे थे।
श्री योगी केरल के कन्नूर में श्री शाह की जन रक्षा यात्रा में शामिल होने गये थे। वहां उन्होंने केरल की वामपंथी सरकार को राजनीतिक हत्याओं के लिये कठघरे में खड़ा करने की कोशिश की थी। वहां की सरकार के खिलाफ अपनी कार्यशैली के मुताबिक आक्रामक रुख अपनाया था।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने केरल में कहा था कि राजनीतिक संरक्षण में हत्यायें हो रही हैं। भाजपा ने इन हत्याओं के खिलाफ लोगों को जागरुक करने के लिये यह यात्रा निकाली थी। भाजपा का दावा है कि यात्रा के माध्यम से केरल वासियों की सुरक्षा को बढ़ावा मिलेगा। हिंसा को प्रश्रय देने वाली सरकारों का सफाया हो गया , क्योंकि लोकतंत्र में हिंसा का कोई स्थान नहीं है। गुजरात पहुंचकर श्री योगी ने उत्तर प्रदेश से गुजरात का अटूट रिश्ता बताया, कहा कि उत्तर प्रदेश में पैदा हुए कृष्ण गुजरात तक आये। उत्तर प्रदेश में ही जन्म लेने वाले स्वामी नारायण ने गुजरात में काफी काम किया। गोरखनाथ भी गुजरात आये थे। उन्होंने वहां से मानवता की शिक्षा दी। गुजरात और उत्तर प्रदेश का गहरा सम्बंध है।
भाजपा के उच्च पदस्थ सूत्रों का दावा है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ श्री योगी को राष्ट्रीय स्तर पर उभारना चाहती है। भाजपा उन्हें केरल भेजने से पहले बंगाल, बिहार, मध्य प्रदेश, हरियाणा में विभिन्न कार्यक्रमों में भेज चुकी है। उड़ीसा विधानसभा चुनाव में भी उनके कई कार्यक्रम लगाने वाले है।
राजनीतिक विश्लेषक दिनेश चन्द्र ने कहा कि श्री योगी की पोशाक से ही प्रखर हिन्दुत्व का संदेश जाता है। उनका मानना है कि संघ देश के अन्य भागों में भी हिन्दुत्व का परचम फहराने का प्रबल पक्षधर है। इसीलिए श्री योगी के कार्यक्रम लग रहे हैं। श्री चन्द्र के अनुसार अयोध्या के राम मन्दिर आन्दोलन के नेता रहे विनय कटियार जैसे नेताओं की धार समय के साथ कुन्द हो चली है। इसलिये आरएसएस योगी को आगे बढ़ाने की फिराक में है, ताकि हिन्दुत्व की पताका पूरे देश में मजबूती के साथ फहरायी जा सके।

loading...
Loading...

Related Articles

Back to top button