स्मृति दिवस 2018 : रिहर्सल परेड में याद किये गए शहीद, छलके ‘आंसू’

लखनऊ। ‘…जो शहीद हुए हैं उनकी जरा याद करो कुर्बानी’ ये गाना बजते ही आप की आंखे नम होना स्वाभाविक है। जी हां अपनी ड्यूटी के दौरान प्राणों की आहुति देने वाले जांबाज पुलिसकर्मियों की याद में हर साल की भांति इस वर्ष भी 21 अक्टूबर 2018 को पुलिस स्मृति दिवस (police smriti diwas) मनाया जायेगा। पुलिस स्मृति दिवस पर होने वाली परेड के लिये तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं। इस उपलक्ष्य में गुरुवार को रिजर्व पुलिस लाइन लखनऊ में रिहर्सल परेड का आयोजन किया गया।

शहीद पुलिस कर्मियों की याद में बने ‘राष्ट्रीय पुलिस स्मारक’ को स्मृति दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री राष्ट्र को समर्पित करेंगे। यह जानकारी डीजीपी ओपी सिंह ने दी। बताया कि स्मारक में ‘नेशनल पुलिस म्यूजियम’ की भी स्थापना होगी, जिसमें केंद्रीय और राज्य पुलिस बलों के इतिहास से जुड़ी वस्तुओं को संजोया जाएगा।

म्यूजियम में एक वीडियो स्क्रीन भी लगेगी, जिसमें शहीद पुलिस कर्मियों के बारे में जानकारी लगातार प्रसारित होती रहेगी। तय हुआ है कि राष्ट्रीय पुलिस स्मारक पर सभी राज्यों के राज्यपाल और मुख्यमंत्रियों द्वारा अपने प्रदेश के शहीद पुलिस कर्मियों की याद में ‘एक शाम उनके नाम’ के रूप में मनाया जाएगा।

सिपाही ने निभाई मुख्यमंत्री की भूमिका

शोक परेड के पूर्वाभ्यास की कमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने संभाल रखी थी। रिहर्सल परेड के दौरान डीजीपी ओपी सिंह सिंह, आईजी रेंज लखनऊ सुजीत कुमार, सहित सभी पुलिस के आला अधिकारी मौजूद रहे। कार्यक्रम में एक सिपाही ने मुख्यमंत्री की भूमिका निभाई। सुबह शुरू हुई परेड में पहले से तय समय के अनुसार सिपाही बतौर मुख्यमंत्री के रूप में गाड़ी से पुलिस लाइन पहुंचे। यहां सीएम की भूमिका में सिपाही ने परेड की सलामी ली। सिपाही ने मुख्यमंत्री के दायित्वों का निर्वहन किया।

मुख्यमंत्री बने पुलिस के जवान परेड की सलामी लेने के साथ ही शोक पुस्तिका को ग्रहण की। फुल ड्रेस पहने पुलिस और पीएसी के जवानों ने शोक परेड की और शस्त्र झुका कर शहीदों को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके साथ ही अधिकारियों के साथ मुख्यमंत्री का किरदार निभा रहे जवान ने शोक स्तंभ पर जाकर शहीदों को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की। परेड की कमांडिग एसएसपी कलानिधि नैथानी ने की। इस दौरान शोक परेड को देखने के लिए लोगों का तांता लगा रहा। करीब दो घंटे चले कार्यक्रम के दौरान आसपास के क्षेत्र में भयंकर जाम की स्थिति बनी रही। जाम से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper