खेल

भावनाओं पर नियंत्रण रख आक्रामक खेल दिखाएं खिलाड़ी : कोच हरेंद्र

मस्कट (ओमान)। हीरो एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी के खिताब को बचाने के लिए अब भारतीय हॉकी टीम का सामना शनिवार को सेमीफाइनल में जापान से होगा। भारतीय हॉकी टीम के कोच हरेंद्र सिंह का कहना है कि वह अपने खिलाड़ियों को भावनाओं पर नियंत्रण रखते हुए आक्रामक प्रदर्शन करते हुए देखना चाहते हैं।

अपने अब तक सभी राउंड-रोबिन मैच में भारत को एक भी बार हार का सामना नहीं करना पड़ा है। पहले मैच में उसने ओमान को 11-0 से, फिर चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 3-1 से मात दी। मलेशिया के खिलाफ खेला गया मैच गोलरहित ड्रॉ रहा, वहीं दक्षिण कोरिया के खिलाफ टीम ने 4-1 से जीत हासिल कर अंतिम-4 में कदम रखा।

टीम के मुख्य कोच हरेंद्र सिंह ने कहा, “मैं अपने खिलाड़ियों को भावनाओं पर नियंत्रण रखते हुए आक्रामक हॉकी खेलते हुए देखना चाहता हूं। सेमीफाइनल मैच बेहद अलग होगा।“

कोच ने कहा, “प्रीलेमिनरी लीग में जापान के खिलाफ खेले गए मैच के प्रदर्शन और परिणाम का शनिवार को होने वाले सेमीफाइनल मैच में कोई महत्व नहीं होगा।“

भारतीय टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह ने कहा, “इस साल खेले गए टूर्नामेंट के मैचों में हमने अच्छी शुरुआत की, लेकिन इसे बेहतर रूप से समाप्त करने में असफल रहे। ओडिशा में इस साल होने वाले विश्व कप को ध्यान में रखते हुए जापान के खिलाफ सेमीफाइनल मैच हमें सही समय पर अच्छा प्रदर्शन करने में मदद करेगा।

loading...
Loading...

Related Articles