धर्म परिवर्तन के खेल को बजरंगदल कार्यकर्ताओं ने किया पर्दाफाश

फतेहपुर। कम्प्यूटर सेंटर के नाम पर ईसाई मसीनरियों द्वारा हिन्दुओं को धर्म परिवर्तन की जा रही साजिश का बजरंगदल कार्यकर्ताओं ने हंगामा करते हुए पर्दाफास किया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौके पर तहकीकात करते हुए कई लोगों से पूंछतांछ कर मौके से ईसाई धर्म के बाइबिल बरामद की।
रविवार को सदर कोतवाली क्षेत्र के त्रिलोकीपुर गांव मे एक कम्प्यूटर सेंटर मे ईसाई धर्म के लोगों द्वारा हिन्दुओं का धर्म परिवर्तन कराये जाने की सूचना जैसे ही बजरंगदल कार्यकर्ताओं को लगी तो जिला संयोजक सानू सिंह की अगुवाई मे कार्यकर्ता मौके पर पहुंचकर देखा तो कम्प्यूटर सेंटर के नाम पर बड़ी संख्या मे गरीब हिन्दुओं को बुलाकर उन्हें बीमारी से मुक्त और अमीर बनाने का लालच देकर उनका धर्म परिवर्तन कर रहे थे। इस दौरान हिन्दू धर्म की महिलायें एवं पुरूष बड़ी संख्या मे मिले जो बाइबिल के जरिये प्रार्थना करायी जा रही थी। बजरंगदल कार्यकर्ताओं ने यह देख हंगामा शुरू कर दिया और सूचना पुलिस को दी जिस पर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक व राधानगर पुलिस मौके पर पहुंचकर देखा कि वहां पर कम्प्यूटर सेंटर के नाम पर ईसाई धर्म के लोगों द्वारा प्रार्थना करायी जा रही है। पुलिस ने जांच पड़ताल करते हुए मौके से एक बाइबिल बरामद की और उपस्थित लोगों से गहनता से पूंछतांछ किया। बताते चले कि इसके पहले भी कई स्थानों पर ईसाई धर्म के लोगों द्वारा हिन्दू धर्म के लोगों को उनकी गरीबी की मजबूरी का फायदा उठाते हुए धर्म परिवर्तन का कार्य किया जाता रहा। जिसको लेकर बजरंगदल कार्यकर्ताओं ने कई बार हंगामा कर धर्म परिवर्तन का कार्य पर रोक लगायी थी। इस दौरान जिला संयोजक सानू सिंह, प्रशांत पुरवार, पप्पू सिंह, अतीश पासवान, विष्णु कसेरा, विनय, शुभम राजपूत, अभिजीत यादव, अंकुश पटेल, शेखू, राजू, संजय, आनंद तिवारी मौजूद रहे।

=>