जाट रेजीमेंट के जवान का निधन, गांव पहुंचा शव

मथुरा। यमद्वितिया पर भाई बहन का मिलन होता है, लेकिन बल्देव के गांव गढी रामवल में जाट रेजीमेंट के जवान और गांव के लाडले का पार्थिव षरीर गांव पहुंचा। पूरा गांव षोक में डूब गया।
जनपद निवासी सेना के जवान हेम सिंह का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह उत्तरी कश्मीर के सीमांत जिले कुपवाड़ा के तंगधार सेक्टर में तैनात थे। इसकी सूचना सेना मुख्यालय ने गुरुवार शाम शहीद के परिवार को दी।
जवान हेम सिंह बलदेव क्षेत्र के गांव गढ़ी रामबल अवेरनी के रहने वाले थे। शुक्रवार को उनका पार्थिव शरीर गांव लाया जाएगा। भैया दूज से पहले वीर सपूत के मरने की खबर से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है। सेना की 20 जाट रेजीमेंट के जवान हेम सिंह रविवार को तंगधार सेक्टर से जुड़ी नियंत्रण रेखा पर अनिल पोस्ट पर तैनात थे। इसी दौरान उनको दिल का दौड़ा पड़ा। उन्हें तुरंत नजदीक अस्पताल में ले जाया गया। जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया।
गांव गढ़ी रामबल अवेरनी निवासी शहीद के भतीजे ओमवीर सिंह ने बताया कि पार्थिक शरीर शुक्रवार को गांव पहुंचेगा। भैया दूज पर भाई की मौत की खबर से बहनें रो रोकर बेसुध हो रही हैं। पूरे गांव में मातम पसरा हुआ है।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper