लखनऊ

चोटी कटने की दहशत से युवतियां पहुंच रही अस्पताल

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में चोटी कटने का खौफ जारी है। बीते 24 घंटों में सौ से अधिक चोटी कटने की घटनाएं सामने आ चुकी हैं। चोटी कटने के बाद दहशत में कुछ महिलाएं और युवतियां बेहोश हो गई। वाराणसी, चंदौली, गोंडा, आजमगढ़ और जौनपुर समेत ज्यातादर जिलों में महिलाएं चोटी कटने की दहशत में बेहोश होकर अस्पताल तक पहुंच गई हैं। इस दौरान पुलिस का घटनाओं की पड़ताल करने का क्रम जारी है। हालांकि कुछ खास हाथ नहीं लगा है।

गोंडा के तेलियाकोट गांव निवासी रामभुलावन मौर्य की 35 वर्षीय पत्नी दुलारपती मंगलवार रात घर के बाहर बरामदे में चारपाई पर बच्चे के साथ लेटी हुई थीं। रात 10 बजे उनकी चोटी कटकर जमीन पर गिर गई। इस घटना से वह अचानक बेहोश हो गई। कमरावां गांव में मिथिलेश पत्नी राजेश रात में छत पर सो रही थीं। देर रात उनके सिर के कई बाल कट गए।

यह देखकर वह बेहोश हो गईं। बलिया में बालिका समेत चार की चोटी कट गई। गाजीपुर में 36 घंटों में चोटी कटने की घटनाएं जारी रहीं। चोटी कटने के बाद महिलाएं, युवतियां बेहोश हो जा रही हैं। यहां कुल 12 महिलाओं की चोटी कटने की जानकारी मिली है। आजमगढ़ में छह महिलाओं की चोटी कट गई। मऊ में 2 महिलाओं की चोट गई। बेहोशी हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया।

जौनपुर में 6 महिलाओं की चोटी कटी है।मीरजापुर में भी दो महिलाओं को चोटी कटने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया है। चंदौली में आज सुबह 5 बजे डेढगांवा गांव के नेहरू प्रजापति की पुत्री रीतू की चोटी कट गयी और वह बेहोश हो गई। वाराणसी के ग्रामीण अंचलों में चोटी कटने की कई घटनाएं हुईं। सेवा पुरी में महिला की कटी चोटी तो वहीं मिर्जामुराद में चार महिलाएं चोटी कटने की शिकार बनी। घटना के बाद बेहोश महिलाओं को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

loading...
Loading...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com