रायबरेली

रायबरेली : मंदिर से दर्शन कर लौट रहे प्रधान पति की बदमाशों ने की गोलियों से भूनकर हत्या

रायबरेली। उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिला में अज्ञात बदमाशों ने मंदिर परिसर में प्रधान पति की गोलियों से भूनकर निर्मम हत्या कर दी। फायरिंग से इलाके में सनसनी मच गई। गोलियां लगते ही वह लहूलुहान होकर मंदिर परिसर में गिर गए। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और गंभीर रूप से घायल प्रधान पति को अस्पताल में भर्ती कराया। यहाँ से डॉक्टरों ने हालत को गंभीर देखते हुए लखनऊ ट्रॉमा सेंटर रेफर किया। यहां इलाज के दौरान प्रधानपति की मौत हो गई। घटना से गांव में दहशत का माहौल है। प्रधान के घर में कोहराम मचा हुआ है। पुलिस अधीक्षक सुजाता सिंह ने घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच पड़ताल की और आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी के निर्देश दिए। पुलिस की प्रारंभिक जाँच में पुरानी रंजिश के चलते हत्या की बात सामने आ रही है। फिलहाल पुलिस ने अभियोग पंजीकृत कर मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है।

दिनदहाड़े गोलियों से भूनकर हत्या से इलाके में दहशत

जानकारी के मुताबिक, बछरावां थाना क्षेत्र के रामपुर सिधौली गांव में प्रधान मंजू सिंह के पति बृजेश सिंह ( 50) उर्फ रिंकू सिंह की गांव के ही प्रसिद्ध पौराणिक भवरेश्वर मंदिर पर सुबह करीब 7:00 बजे दर्शन करने गए थे। वह मंदिर से दर्शन करके लौट रहे थे तभी पहले से घात लगाकर बैठे अज्ञात बदमाशों ने उनको गोलियों से भूनकर हत्या कर दी। हमलावरों ने एक के बाद एक चार गोलियां उन पर चलाईं। तीन गोलियां प्रधान पति के सीने में और एक सिर पर लगी। फायरिंग कर हमलावर मौके से फरार हो गए। घायल को तत्काल लखनऊ ट्रामा सेंटर ले जाया गया यहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

एसपी, डीएम पहुंचे घटनास्थल पर, शीघ्र गिरफ्तारी के निर्देश

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर डीएम संजय खत्री व पुलिस अधीक्षक सुजाता सिंह ने घटना स्थल का जायजा लिया और शीघ्र ही हत्यारो को गिरफ्तार करने के निर्देश अपने अधीनस्थों को दिए। प्रधान पति की मौत से घर में कोहराम मच गया पत्नी मंजू सिंह पिता हरिश्चंद्र सिंह मां सुषमा सिंह का रो रो कर बुरा हाल है प्रधान पति की मौत से पूरे गांव में आक्रोश है ग्रामीणों ने हमलावरों की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग की है। प्रधान पति की हत्या से अन्य गांवों के प्रधानों में भी आक्रोश देखने को मिल रहा है।

loading...
Loading...

Related Articles

Back to top button