इंस्टाग्राम ने फेक लाइक्स, कमेंट्स हटाए

सेन फ्रांसिस्को। फेसबुक के स्वामित्व वाले फोटो शेयरिंग एप इंस्टाग्राम ने उन अकाउंट्स से अनाधिकृत लाइक्स, फॉलोज और कमेंट्स हटाने की घोषणा की है, जो अपनी लोकप्रियता बढ़ाने के लिए थर्ड पार्टी एप्स का इस्तेमाल करते हैं। कंपनी ने कहा कि उसने अपनी झूठी लोकप्रियता बढ़ाने के मकसद से फेक यूजर्स के जरिए लाइक्स, फॉलोज और कमेंट्स कराने के लिए ऑटोमेटेड एप्स का उपयोग करने वाले अकाउंट्स की पहचान करने के लिए मशीन लर्निंग (एमएल) टूल बनाया है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, इसने कहा, “ऐसा व्यवहार इंस्टाग्राम के लिए खराब है और यह हमारे नियमों का उल्लंघन करता है।“

इंस्टाग्राम ने यूजर्स को अपने अकांउट के इस्तेमाल के लिए अपना यूजरनेम और पासवर्ड शेयर कर थर्ड पार्टी एप का उपयोग नहीं करने की सलाह देते हुए चेतावनी दी है कि ऐसा करने पर उनकी लॉग इन जानकारी हैक या सार्वजनिक हो सकती है और उनके खातों का उपयोग स्पैम भेजने में किया जा सकता है।

कंपनी ने कहा, “नए नियम जारी हैं और लाइक्स और कमेंट्स बढ़ाने के लिए थर्ड पार्टी एप्स का उपयोग करने वाले यूजर्स को इसका नतीजा झेलना पड़ सकता है।“

इंस्टाग्राम लंबे समय से फेक अकाउंट्स को हटाते हुए अनाधिकृत गतिविधियों के खिलाफ सक्रिय है, लेकिन उसने इससे पहले फेक लाइक्स के खिलाफ ऐसी कार्रवाई नहीं की है।

अपनी नीतियों को लागू करने के लिए कंपनी का यह कदम इसकी मूल कंपनी फेसबुक द्वारा झूठी खबरों के खिलाफ अभियान छेड़ने के बाद आया है। झूठी खबरों से राजनीति को प्रभावित करने के लिए फेसबुक का उपयोग लंबे समय से हो रहा है।

=>