नाबालिग को जीआरपी ने वापस दिलाया ठिकाना

झांसी: झांसी में रेलवे स्टेशन पर गश्त के दौरान थानाध्यक्ष अनुराग अवस्थी व आरक्षी सतेन्द्र कुमार को रेलवे स्टेशन महोबा के प्लेटफार्म नम्बर एक पर बने वेटिंग रूम में एक नाबालिग लड़की बिना कोई सामान लिए नंगे पैर संदिग्ध अवस्था में बैठी दिखाई दी शक होने पर पूँछतांछ में उसने अपना नाम सोनम पुत्री राघवलाल निवासी ग्राम चंद्रनगर थाना बमीठा जिला छतरपुर मध्यप्रदेश उम्र करीब 13 वर्ष बताया तथा बताया कि मेरे घरवाले मेरी शादी करना चाहते हैं इसलिये मैं बिना बताए चुपचाप घर से भागकर खजुराहो से ट्रेन द्वारा सुबह महोबा आ गई थी यहां से मुझे दिल्ली जाना था लड़की के विषय में चौकी चंद्रनगर थाना बमीठा को सूचना दी गई तो ज्ञात हुआ कि लड़की की माँ व नाना लड़की के गायब होने की सूचना चौकी में देने आये हैं, चौकी के माध्यम से लड़की के परिजनों को सूचना दी गई सूचना पर लड़की की माँ श्रीमती पुष्पा, नाना दरबारी,मामा ठाकुरदीन, चाचा पुरषोत्तम दास उपस्थित थाना आये सोनम उपरोक्त को समझाबुझाकर परिजनों के सुपुर्द कर थाने से रुखसत किया गया अपनी खोयी हुई लड़की को पाकर लड़की के परिजन अत्यंत प्रसन्न हुए और उनके द्वारा जीआरपी महोबा द्वारा किए गए सराहनीय कार्य की प्रशंसा की गई ।

=>