Main Sliderलखनऊ

लखनऊ: गोमती नगर में भरभराकर गिरी जीवन प्लाजा की छत

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के गोमती नगर थाना क्षेत्र में दो मंजिला बने जीवन प्लाजा की छत गिर जाने से हड़कंप मच गया। बिल्डिंग के गिरते ही लोग इधर उधर भागने लगे। शोर शराबा सुनकर लोग भयभीत हो गए। इसकी सूचना लोगों ने पुलिस को दी। बिल्डिंग गिरने से किसी के हताहत होने की अभी कोई खबर नहीं है।

बताया जा रहा है बिल्डिंग गिरने से हुए धमाके के बाद पड़ोस के घर में आग लग गई। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और आनन-फानन में लोगों की मदद से मलबा हटाया और घायलों को बाहर निकाला। पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया। यहां सभी की हालत गंभीर बताई जा रही है। घटना से मौके पर घर में कोहराम मचा हुआ था। रोड पर गिरे मलबे को हटाने का काम स्थानीय लोगों द्वारा किया जा रहा था। पुलिस राहत एवं बचाव का कार्य कर रही है। एनडीआरएफ, एसडीआरएफ की टीम को मौके पर बुलाया गया है। पुलिस अधिकारी मौके पर हैं। दमकल की गाड़ियां आग बुझाने में जुटी हुई थीं।

जानकारी के मुतबिक, गोमतीनगर के विराम खंड के 5/21 के हाउसिंग प्लाट में अवैध निर्माण किया गया था। विराम खंड पांच गोमतीनगर में हुसडिय़ा (चंद्रशेखर आजाद) चौराहा के पास जीवन प्लाजा के बगल में स्थित बिल्डिंग गिरी। बिल्डिंग की छत पर निर्माण कार्य चल रहा था। बिल्डिंग के मालिक गोरखपुर निवासी बीजेपी नेता अशोक कुमार पांडेय हैं। बिल्डिंग गिरने से पड़ोसी डॉ बीएल रस्तोगी के मकान में आग लग गई। हुसडिया चौराहे के पास जीवन प्लाजा के सामने SMAP बिल्डर्स के ऑफ़िस की छत गिरी, पीछे के हिस्से में निर्माण का कार्य चल रहा था। छत गिरने से कई लोगों के मलबे में दबे होने की सूचना। स्थानीय लोगों की मदद से बुजुर्ग महिला क़ो निकाल कर अस्पताल भेजा गया। मकान में डॉ. की बेटी झरना और माँ शकुंतला देवी के अलावा नीचे किराए पर रह रहे निजी कंपनी के कर्मचारी थे।

बिल्डिंग गिरने से बगल में बने मकान में लगी आग
स्थानीय लोगों की मदद से बुजुर्ग महिला क़ो निकाल कर अस्पताल भेजा गया। बिल्डिंग गिरने से बगल में बने मकान में आग लग गई। जिसके कारण उस पूरे क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। लोग अपने घर से निकलकर बाहर भागने लगे। एनडीआरएफ की टीम क़ो बुलाया गया। डॉ की बेटी झरना किसी तरह भागकर नीचे आईं। इसके बाद पुलिस ने शकुंतला (90) को सकुशल बाहर निकाला। मकान में आग लगने से कीमती सामान जल गए। अभी तक बिल्डिंग ने किसी के फंसे होने की पुष्टि नहीं हुई है। एसडीआरएफ की टीम के आने के बाद रेस्क्यू अभियान शुरू होगा। आग लगने की सूचना पर वहां फायरब्रिगेड की टीम भी पहुंच गई।

loading...
=>

Related Articles