पेट्रोलियम एवं प्रकृतिक गैस मंत्रालय की नई पहल, जैव गैस संयंत्र (सीबीजी) पर रोड शो आयोजित

लखनऊ। तेल विपणन कंपनियां भारत पेट्रोलियम, इंडियन ऑयल, हिंदुस्तान पेट्रोलियम एवम पेट्रोलियम सहित प्राकृतिक गैस मंत्रालय की तरफ से सोमवार को लखनऊ में ‘सतत’ पहल पर रोड शो का आयोजन किया गया।जिसमें श्री सतीश महाना, औद्योगिक विकास मंत्री, और श्री बृजेश पाठक, विधान, न्याय, पारंपरिक ऊर्जा स्रोत, राजनीतिक पेंशन मंत्री सम्माननीय अतिथि के तौर पर एमओपी और एनजी, उत्तर प्रदेश राज्य जैव ऊर्जा विकास बोर्ड, नेडा और ओएमसी के वरिष्ठ अधिकारी इस कार्यक्रम में भाग लिया ।
संपीड़ित जैव गैस (सीबीजी) शुद्ध और संपीड़ित बायोगैस है, जो कृषि अपशिष्ट, मवेशी गोबर, गन्ना प्रेस मिट्टी और डिस्टिलरीज, सीवेज पानी, नगरपालिका ठोस अपशिष्ट जैसे विभिन्न अपशिष्ट / बायोमास स्रोतों, औद्योगिक अपशिष्ट आदि के जैव-वर्गीय अंश आदि से एनारोबिक अपघटन की प्रक्रिया के माध्यम से उत्पादित किया जाता है। सीबीजी में सीएनजी के समान गुण हैं, इस प्रकार ऑटोमोटिव, औद्योगिक और वाणिज्यिक क्षेत्रों में सीएनजी को प्रतिस्थापित करने की क्षमता है। इस सड़क शो के माध्यम से, ओएमसी उद्यमियों और उद्योगपतियों को इस नए व्यापार अवसर का लाभ उठाने और इस महान पहल ‘सतत’ का हिस्सा बनने के लिए आमंत्रित करना चाहती हैं, जो स्वच्छ भारत अभियान को भी सपोर्ट करते हैं और राष्ट्र के विकास में योगदान देते हैं

पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस एवं कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने एक अक्टूबर को सस्ती परिवहन के लिए सतत वैकल्पिक) पहल शुरू की है । जिसके अंतर्गत तेल विपणन कंपनियों (ओएमसी यानी आईओसी, बीपीसीएल और एचपीसीएल) ने संभावित उद्यमियों से संपीड़ित जैव गैस (सीबीजी) संयंत्र स्थापित करने और ओएमसी को सीबीजी की आपूर्ति करने के लिए एक्स्प्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (ईओआई) आमंत्रित किए हैं । ‘सतत’ पहल के अंतर्गत देश भर में 5000 सीबीजी संयंत्रों को 2023 तक प्रति वर्ष 15 एमएमटी सीबीजी (अनुमानित उत्पादन) की क्षमता के साथ स्थापित करने का लक्ष्य रखा गया है ।
संपीड़ित जैव गैस (सीबीजी) शुद्ध और संपीड़ित बायोगैस है, जो कृषि अपशिष्ट, मवेशी गोबर, गन्ना प्रेस मिट्टी और डिस्टिलरीज, सीवेज पानी, नगरपालिका ठोस अपशिष्ट जैसे विभिन्न अपशिष्ट / बायोमास स्रोतों, औद्योगिक अपशिष्ट आदि के जैव-वर्गीय अंश आदि से एनारोबिक अपघटन की प्रक्रिया के माध्यम से उत्पादित किया जाता है। सीबीजी में सीएनजी के समान गुण हैं, इस प्रकार ऑटोमोटिव, औद्योगिक और वाणिज्यिक क्षेत्रों में सीएनजी को प्रतिस्थापित करने की क्षमता है। इस सड़क शो के माध्यम से, ओएमसी उद्यमियों और उद्योगपतियों को इस नए व्यापार अवसर का लाभ उठाने और इस महान पहल ‘सतत’ का हिस्सा बनने के लिए आमंत्रित करना चाहती हैं, जो स्वच्छ भारत अभियान को भी सपोर्ट करते हैं और राष्ट्र के विकास में योगदान देते हैं।
इस पहल के तहत ओएमसी उद्यमियों के लिए दीर्घकालिक वाणिज्यिक समझौते के साथ सीबीजी की खरीद के लिए लाभकारी मूल्य प्रदान कर रहे हैं।

=>