उत्तर प्रदेश में गुंडों की सरकार चल रही है, मुख्यमंत्री योगी उसके संरक्षक बने हुए हैं – सांसद संजय सिंह

एटा। आम आदमी पार्टी के यूपी प्रभारी एवं राज्यसभा सांसद संजय सिंह मंगलवार को बुलन्दशहर घटना में शहीद सुबोध सिंह राठौर को श्रद्धांजलि देने उनके पैतृक गांव तिरगवां पहुंचे। सुबोध सिंह के दो बेटों और बाबा सहित अन्य परिजनों से मुलाकात कर उनको सांत्वना दी और जांबाज पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की शाहदत को नमन किया।

सांसद संजय सिंह ने कहा कि सहारनपुर में एसएसपी के घर में घुसकर भाजपा के सांसद राघवलखन दादागीरी करते हैं,उनके परिवार को आतंकित करते हैं। कभी भाजपा के नेता पुलिस वालों को दौड़ा दौड़ा कर पीटते हैं। योगी राज में उत्तर प्रदेश की पुलिस असहाय बनी हुई है और गिड़गिड़ाने का काम कर रही है। शहीद सुबोध सिंह के परिवार को सरकार की ओर से जो सहायता राशि दी गई वह अपर्याप्त है। दिल्ली की केजरीवाल सरकार की तरह उत्तर प्रदेश सरकार शहीद सुबोध सिंह को एक करोड़ रुपये की सहयोग राशि और उनके परिवार को सुरक्षा दे।

उन्होंने कहा कि सुबोध सिंह की पत्नी के बयान से पता चला है कि सुबोध सिंह अखलाक की हत्या की जांच कर रहे थे। जांच के दौरान उनको कई बार जान से मारने की धमकियां मिली, उनको लाइन हाजिर कर दिया गया। इसका मतलब है कि भाजपा के गुंडे पुलिस को अपना सही तरीके से काम नही करने दे रहे हैं। गलत काम करवाने के लिए दवाब बनाया जाता है।

सजंय सिंह ने कहा कि भाजपा उत्तर प्रदेश को नफरत की आग में झोंकना चाहती है यदि भाजपा के गुंडों को नहीं रोका गया तो ये इकठ्ठे होकर किसी भी निर्दोष को मार देंगे। भाजपा हमेशा हिन्दू हिन्दू हिन्दू की राजनीति करती है हिंदुओं की बात करने वाली सरकार में हिन्दू मारे जा रहे हैं। क्या सुबोध सिंह हिन्दू नही थे? उन्होंने कहा बुलन्दशहर में गोलियां चल रही थी लोग मारे जा रहे थे और मुख्यमंत्री योगी गोरखपुर परिसर स्थित भीम सरोवर पर लाइट एवम साउंड सिस्टम के माध्यम से शो देख रहे थे।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता को सोचना होगा कि दंगाई सोच रखने वाले मुख्यमंत्री योगी के हाथों में प्रदेश कैसे सुरक्षित रहेगा। वोट, सत्ता और नफरत की राजनीति के लिए भाजपाइ हत्याएं करा रहे हैं। तस्वीरे विचलित कर देने वाली है, दंगाइयों ने सुबोध सिंह को घेर कर गोली मारी है। दंगाइयों को इतनी हिम्मत सरकार से मिल रही है इसीलिए भाजपा राज में मॉव लिंचिंग की घटनाएँ हो रही है। योगी के राज में यूपी की कानून व्यवस्था बदहाल हो चुकी है, कानून का राज जंगलराज में तब्दील हो चूका है। योगी से प्रदेश नहीं संभल रहा है उनको अपने पद से इस्तीफ़ा दे देना चाहिए।

loading...
=>