100 करोड़ हिंदुओं के पुरुषार्थ से बनेगा राम मंदिर: गिरिराज सिंह

कानपुर। अयोध्या में राममंदिर बनने को लेकर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि,100 करोड़ हिंदुओं के पुरुषार्थ से राम मंदिर बनेगा। इस बारे में जिसे जो कहना है, वह कहता रहे। पाकिस्तानी पीएम की तारीफ पर सिद्धू को उन्होंने कांग्रेस का एंबेसडर बताया।यह बात केंद्रीय सूक्ष्म,लघु व मध्यम उद्योग राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) गिरिराज सिंह ने पत्रकारों से कही। वह गुरुवार सुबह कानपुर मैं फजलगंज स्थित टूल रूम का निरीक्षण करने पहुंचे थे।
अपनी मुखर बातचीत के लिए पहचाने जाने वाले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह से बात जब राजनीतिक मुद्दों पर हुई,तो उसमें राममंदिर का प्रश्न सबसे मुखर होकर आया। राममंदिर निर्माण में कांग्रेस को सबसे बड़ी बाधा बताते हुए उन्होंने कहा कि,यह कांग्रेस ही थी,जिसने राम को काल्पनिक बताया और अब उनके अध्यक्ष मंदिर की दौड़ लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि,अयोध्या में राममंदिर जरूर बनेगा। पाकिस्तानी पीएम की तारीफ करने वाले नवजोत सिंह सिद्धू पर भी केंद्रीय मंत्री आक्रामक रहे। उन्होने कहा कि,जो पाकिस्तान जाकर वहां के पीएम की तारीफ करे,ऐसे सिद्धू अब राहुल की कांग्रेस के एंबेसडर हो गए हैं।उन्होंने कहा कि देश के अंदर 15 टेक्नोलॉजी डेवलपमेंट सेंटर शुरू किए जाने हैं। इनमें से 10 को दिसंबर 2018 तक संचालित हो जाना था। नौ तो संचालन की स्थिति में आ गए लेकिन कानपुर के इस टूल रूम की दशा बुरी और चिंताजनक है। उन्होंने वहां की स्थिति देखकर अफसरों को फटकार लगाई। कहा,समीक्षा करके बताएं कि कब तक शुरू हो पाएगा। निर्देशित किया कि अधिक से अधिक मैनपॉवर लगाकर इसका काम जल्द से जल्द पूरा करें। उन्हें एमएसएमई विभाग व टाटा कंसलटेंसी के अफसरों ने बताया कि जमीन मिलने का काम में देरी के चलते समय ज्यादा लग गया।
हालांकि,अफसरों के जवाब से केंद्रीय राज्यमंत्री पूरी तरह नाखुश दिखे। वहीं निरीक्षण के बाद प्रेसवार्ता में उन्होंने बताया कि जल्द एमएसएमई मंत्रालय एग्रो इंजीनियरिंग,एग्रो नैनोपार्टिकल,फर्टिलाइजर आदि की दिशा में भी कवायद करेगा। इसके लिए विभाग आइआइटी,कृषि अनुसंधान संस्थान की मदद लेगा। पीएम मोदी के नए विजन हब एंड स्पोक मॉडल से गांव के किसानों और उद्यमियों को जोड़ा जाएगा। जिससे देश के आर्थिक विकास को मजबूती मिलेगी। उन्होंने बताया कि उनके विभाग को बजट के रूप में 6000 करोड़ रुपये मिल चुके हैं। इस मौके पर डीएम विजय विश्वास पंत,एमएसएमई निदेशक यूसी शुक्ला,एफएफडीसी के सहायक निदेशक डॉ भक्ति विजय शुक्ला, राकेश पात्रा, पप्पी पांडेय आदि मौजूद रहे।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper