Main Sliderटेक मित्र

भारत में इंटरनेट यूजर्स की संख्या 50 करोड़ के पार, ये राज्य बना नंबर-1

भारत में इंटरनेट उपभोक्ताओं की तादाद लगातार बढती ही जा रही है। मार्च में जो आंकड़े सामने आए थे उसमें 2016 से 2018 तक 65 फीसदी इजाफा हुआ है। मोदी सरकार ने भी उपभोक्ता बढ़ाने के लिए तीन साल पहले लक्ष्य निर्धारण किया था। सरकार का कदम काम भी आया और अब भारत में इंटरनेट उपभोक्ताओं की संख्या 50 करोड़ का आकंड़ा पार कर चुकी है।

ट्राई (भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण) के मुताबिक सितंबर 2018 के अंत तक नैरोबैंड और ब्रॉडबैंड उपभोक्ताओं की संख्या 56 करोड़ को पार कर गई। इसी तरह मार्च 2016 तक इटंरनेट उपभोक्ताओं की संख्या को 2018 तक 50 करोड़ के पार ले जाना है। मुझे पूरा विश्वास है कि आने वाले दो तीन सालों में भारत आईटी के मामले में चीन के बराबर खड़ा होगा।

इस 56 करोड़ इंटरनेट उपभोक्ताओं में से तकरीबन 64% यानी 36 करोड़ शहरी जबकि 36% यानी 19.4 करोड़ ग्रामीण उपभोक्ता है। जानकारों का मानना है कि जहां एक ओर सर्विस प्रोवाइडर इस मामले ग्रामीण इलाकों पर ज्यादा ध्यान दे रहे है वहीं इस मामले में सरकार के प्रयास भी सराहना योग्य है। इसके अलावा शहरी इलाकों में रिलायंस जियो की एंट्री भी उपभोक्ता की बढ़ी संख्या का कारण मानी जा रही है।

कर्नाटक, आंध्र प्रदेश (तेलंगाना सहित), महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु इन पांच राज्यों से कुल इंटरनेट उपभोक्ताओं में से 20 करोड़ यानी 36 फीसदी उपभोक्ता आते हैं। इंटरनेट उपभोक्ताओं की संख्या को बहडाते हुए भारत नेट ने अबतक 1.1 लाख ग्राम पंचायतों ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क से जोड़ा है। इनमें उत्तरप्रदेश के 27,940, महाराष्ट्र के 15,126 और मध्यप्रदेश के 12,689 शामिल है।

loading...
Loading...

Related Articles