कारोबारटेक मित्र

‘सुकरुस’ ‘एप’ दे रहा डॉलर कमाने का बेहतरीन मौक़ा,पैसे कमाने के लिए लगी है कतारे

सुकरुस नामक यह एप लोगों को होटल, रेस्तरां और दुकानों के बाहर कतार में लगने का मौका देता है जिसके लिए उन्हें पैसे मिलते हैं।

गूगल प्लेस्टोर पर तेजी से एक स्मार्टफोन एप्लीकेशन लोकप्रिय हो रहा है जो नए रेस्तरांओं और अन्य व्यवसायों को अपने लिए भीड़ जुटाने में मददगार बन रहा है।

सुकरुस का नारा है, बाहर जाओ, मजे करो, पैसा पाओ। यह एप एक गणितीय आकलन के जरिये किसी यूजर की उम्र, स्थान, स्टाइल और फेसबुक पर मिले लाइक वगैरह को देखकर उसको मौका देता है।

यूजर को अपनी साख बनाए रखनी होती है। इससे उसको फिर से मौका मिलने की गुंजाइश बढ़ जाती है।

सुकरुस यूजर की लोकेशन की निगरानी करता है। ऐसे में अगर कोई यूजर किसी कतार से समय से पहले ही निकलने की कोशिश करता है तब उसे कोई भुगतान नहीं किया जाता।,

इसमें मिलने वाला भुगतान पांच डॉलर से लेकर 100 डॉलर तक हो सकता है। इसके जरिये किसी रेस्तरां या दुकान के बाहर ग्राहक बनकर कतार में लगने वालों को औसतन 25 से 40 डॉलर तक मिल जाते हैं।

सुकरुस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी स्टीफन जॉर्ज ने कहा, यह एप ग्राहकों और व्यवसाय के बीच मेल कराने वाले किसी एजेंट की तरह काम करता है। जार्ज ने कहा, अनेक कंपनियों को पता रहता है कि उनके उपभोक्ता कहां हैं।

लेकिन वे यह नहीं जानतीं कि उन्हें कैसे पकड़ना है। वे प्रोमोटर, पीआर एजेंसी आदि को इस काम में लगाती हैं।

ये एजेंसियां जो संदेश प्रसारित करती हैं, वे लोगों तक पहुंचीं या नहीं यह तय नहीं हो पाता। लेकिन यह एप लोगों तक पहुंचना तय करता है।

शिकागो निवासी जॉर्ज ने ग्रुपऑन के साथ सुकरुस की शुरुआत की थी। तब वे डेपॉल यूनिवर्सिटी में छात्र थे।

साल 2015 में उन्होंने इसमें 2.5 लाख डॉलर निवेश किए। इसके बाद लॉस एंजिलिस, न्यूयॉर्क, शिकागो, मियामी में 15 हजार सदस्य हो गए।

सभी एप को डाउनलोड कर सकते थे इन सदस्यों ने 4,200 आयोजनों में शिरकत की। इस तरह यूजर ने सालाना चार हजार डॉलर कमाए।

loading...
Loading...

Related Articles