भाजपा को छोड़ हम किसी से भी गठबंधन को तैयार : शिवपाल

लखनऊ। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के प्रमुख शिवपाल सिंह यादव का कहना है कि उनकी पार्टी लोकसभा चुनाव के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि वह भाजपा को छोड़ कर किसी भी पार्टी से गठबंधन पर तैयार है बशर्ते सम्मानजनक सीटें उनकी पार्टी को दी जाए। शिवपाल बुधवार को पार्टी कार्यालय में सपा से पांच बार विधायक रहे शिव कुमार बेरिया समेत सपा व कांग्रेस के कई नेताओं व समर्थकों के पार्टी में शामिल होने के अवसर पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।
हमीरपुर खनन मामले में सीबीआई की छापेमारी पर शिवपाल ने कहा कि भाजपा ने खनन मामलों की जांच करने में बहुत देर कर दी। 2004 से 2007 तक वह भी खनन मंत्री रहे हैं। उन पर आज तक कोई आरोप नहीं लगा। उन्होंने माना कि खनन में जो बेइमानी हुई है, उससे जनता को महंगाई का सामना करना पड़ा। मिट्टी, गिट्टी, बालू सभी महंगे मिले। लेकिन भाजपा ने खनन की जांच में बहुत देरी कर दी। उन्होंने कहा कि 2007 से 2012 तक (बसपा सरकार में) खनन की जांच होनी चाहिए थी। सरकार बने दो साल होने जा रहे हैं, अब जांच लोकसभा चुनाव की वजह से कराई जा रही है। आर्थिक आधार पर सवर्णों को आरक्षण को शिवपाल ने सकारात्मक कदम बताया, लेकिन साथ ही आशंका जताई कि कहीं यह भी जुमला बनकर न रह जाए।
लोकसभा चुनाव और राजनीतिक दलों से गठबंधन पर पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवपाल ने कहा कि लोकसभा चुनाव के लिए हम पूरी तरह से तैयार हैं। जहां तक गठबंधन की कात है हम भाजपा को छोड़ सभी सेक्युलर पार्टियों के साथ समझौते को तैयार हैं। बशर्ते उनपकी पार्टी को सम्मानजनक सीटें मिले। उन्होंने भाजपा पर एक भी चुनानी वादा पूरा नहीं करने का आरोप लगाया और कहा कि प्रसपा सामाजिक परिवर्तन की लड़ाई लड़ रही है।
इससे पहले शिवपाल ने पूर्व कैबिनेट मंत्री व पांच बार के सपा से विधायक रहे शिवकुमार बेरिया व कांग्रेस नेता हर्षवर्धन पांडेय समेत सपा के तमाम लोगों को पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई। इस मौके पर पूर्व मंत्री बेरिया ने कहा कि मुझे भतीजे (अखिलेश यादव) ने पार्टी से निकाला तो अब चाचा (शिवपाल सिंह यादव) के साथ मिलकर समाजवादी आंदोलन को मजबूत करूंगा। बेरिया ने कहा कि चापलूसों के कारण सपा में उनका अपमान हुआ। सरकार रहते मंत्री पद से बर्खास्त किया गया और कुछ समय पहले पार्टी से निलंबित कर दिया गया। इसकी वजह आज तक नहीं बताई गई। वहीं शिवपाल ने कहा कि शिवकुमार बेरिया के आने से प्रसपा मज़बूत होगी। उन्होंने दावा किया कि बेरिया के आने से समाजवादी पार्टी कानपुर देहात से साफ हो जाएगी।
आज अखिल भारतीय कुर्मी क्षत्रिय महासभा के अध्यक्ष सर्वेश कटियार, जिला पंचायत कापुर देहात के सदस्य सुंदर लाल पांडेय व पीएस वर्मा, पूर्व ब्लॉक प्रमुख अशोक कटियार, शिक्षक नेता राजेन्द्र त्रिपाठी स्वामी व सपा जिला उपाध्यक्ष रवीन्द्र पालीवाल समेत सैकड़ों कार्यकर्ता प्रसपा में शामिल हुए।

=>