बीजेपी और आरएसएस सबसे बड़ी जातिवादी- तेजस्वी यादव

अखिलेश यादव ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा से पूरे देश की जनता नाराज है, बीजेपी ने किसानों को संकट में डाला, नौजवानों की नौकरी छीनी, बीजेपी ने पांच साल में हर वर्ग को धोका दिया है।

लखनऊ। राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव सोमवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ पहुंचे। यहां उन्होंने समाजवादी पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मुलाकात की। तेजस्वी यादव ने सपा की प्रेसवार्ता में भाजपा पर जमकर हमला बोला।

सपा-बसपा मिलकर करेंगी भाजपा का सफाया – तेजस्वी
तेजस्वी ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि बिहार में लोगों को बीजेपी ने ठगा। प्रधानमंत्री ने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं दिया। विशेष पैकेज से एक भी पैसा अभी तक नहीं दिया। बीजेपी की सरकार में लिंचिंग बढ़ी है। समाज में ज़हर फैलाया जा रहा है। आने वाले चुनाव में गठबंधन को समर्थन मिलेगा। देश में यूपी के गठबंधन का संदेश गया है। यूपी-बिहार से ही केंद्र में सरकार का रास्ता जाएगा। यूपी-बिहार-झारखंड में बीजेपी को बहुत नुकसान होने जा रहा है। उन्होंने कहा कि देश में अघोषित इमरजेंसी है, गठबंधन से बीजेपी को कम से कम 100 सीटों का नुकशान होगा और यूपी और बिहार में बीजेपी का सफाया होगा। तेजस्वी यादव ने कहा कि केंन्द्र सरकार का रवैया तनाशाही वाला हैं। भाजपा और आरएसएस सबसे बड़ी जातिवादी पार्टी हैं। तेजस्वी ने कहा कि यूपी ही नहीं पूरे देश में लोगों ने सपा-बसपा को समर्थन दिया है। इसकी गूंज पूरे देश में सुनाई दे रही है। उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि इस समय देश में भाजपा के खिलाफ जबरदस्त माहौल है।

भाजपा ने अपना एक भी वादा पूरा नहीं किया- तेजश्वी
भाजपा विकास का वादा कर सत्ता में आई थी लेकिन उन्होंने अपना एक भी वादा पूरा नहीं किया। न तो दो करोड़ नौकरियां दी और न ही 15 लाख रुपये देश की जनता को दिये।उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव 2019 में यूपी, बिहार व झारखंड में भाजपा की 100 सीटें कम होंगी। सपा-बसपा गठबंधन से भाजपा को झटका लगा है। इस गठबंधन के लिए मैं अखिलेश यादव व मायावती को बधाई देने के लिए आया हूं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करते हुए तेजस्वी ने कहा कि विधानसभा चुनाव में तो मोदी जी ने बिहार की बोली लगा दी थी। सवा लाख करोड़ का पैकेज देने का वादा किया था लेकिन अब तक नहीं दिया और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी इस पर कुछ नहीं बोल रहे हैं। तेजस्वी ने कहा कि अखिलेश और मायावती जी ने ऐतिहासिक फैसला लिया है। इसका असर पूरे देश की राजनीति पर होगा। उन्होंने कहा कि आज बिहार में भाजपा व नीतीश की सरकार में राज्य की कानून-व्यवस्था खराब है पर मुख्यमंत्री कुछ बोल ही नहीं रहे हैं। बिहार में तो बर्फ भी नहीं पड़ी है कि उनका (मुख्यमंत्री नीतीश) मुंह जम गया हो।

पिता लालू प्रसाद यादव ने की थी महागठबंधन कल्पना
रविवार रात लखनऊ पहुंचने पर तेजस्वी यादव ने कहा था कि मेरे पिता लालू प्रसाद यादव ने कल्पना की थी कि यूपी में एक महागठबंधन हो जिसमें सपा और बसपा मिलकर चुनाव लड़ें। आज देश के जो हालात हैं, उसमें यह गठबंधन आवश्यक हो गया है। तेजस्वी यादव ने भाजपा और संघ पर करारा हमला करते हुए कहा था कि इस समय देश में संविधान को खत्म कर नागपुरिया कानून लागू करने का प्रयास किया जा रहा है। मोहन भागवत जो कह रहे हैं, नरेंद्र मोदी वही कर रहे हैं। इस समय देश में अघोषित इमरजेंसी जैसे हालात हैं। सपा-बसपा गठबंधन से लालू का सपना साकार हुआ है।

बीजेपी से पूरे देश की जनता नाराज- अखिलेश यादव
अखिलेश यादव ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा से पूरे देश की जनता नाराज है, बीजेपी ने किसानों को संकट में डाला, नौजवानों की नौकरी छीनी, बीजेपी ने पांच साल में हर वर्ग को धोका दिया है। अखिलेश यादव ने कहा कि सपा-बसपा गठबंधन की खुशी पूरे देश में है। दिल्ली से कलकत्ता तक के लोग हमारे फैसले से खुश हैं। कुम्भ मेले के लिए नेताओं को भेजे गए निमंत्रण पर अखिलेश यादव ने तंज कसते हुए कहा कि कुम्भ में लोग मोक्ष के लिए आते हैं। मुख्यमंत्री योगी मोक्ष के लिए नेताओं को बुलाएं हैं। इससे पहले ऐसा कहीं नहीं सुना कि मोक्ष के लिए निमंत्रण दिया गया हो।

=>