हरदोई- शिकायत निस्तारण में लापरवारी एवं शिथिलता बरतने पर सख्त कार्यवाही की जायेगीः- जिलाधिकारी

शिकायतों को गम्भीरता से लेते हुए समयबद्व त्वरित निस्तारण करना सुनिश्चित करें:- पुलकित खरे

हरदोई, आज तहसील सण्डीला में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी पुलकित खरे ने उपस्थित जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिये कि मा0 मुख्यमंत्री, शासन स्तर, सम्पूर्ण समाधान एवं थाना दिवस में प्राप्त होने वाली शिकायतों को गम्भीरता से लेते हुए समयबद्व त्वरित निस्तारण करना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि शिकायतों के निस्तारण में जिस विभाग के अधिकारी द्वारा लापरवारी एवं शिथिलता बरती जायेगी उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी।समाधान दिवस में राशन वितरण की शिकायतों पर जिलाधिकारी ने जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देश दिये कि पात्र कार्ड धारकों को नियमित राशन उपलब्ध करायें तथा गड़बड़ी करने वाले कोटेदारों पर कार्यवाही करें। विद्युत विभाग की शिकायतों के सम्बन्ध में उन्होने अधिशासी अभियंता को निर्देश दिये कि खराब ट्रास्फारमरों को त्तकाल बदला जाये तथा उपभोक्ताओं की समस्याओं का निस्तारण शीघ्र करें। सरकारी एवं पट्टा धारकों की जमीन पर अवैध कब्जों की शिकायत पर जिलाधिकारी ने राजस्व व पुलिस विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि गांवों में सरकारी एवं पट्टेदारों की भूमि पर अवैध कब्जा करने वाले भूमाफियाओं के खिलाफ एंटी भू-माफिया धारा के अन्तर्गत एफआईआर दर्ज कर कड़ी से कड़ी कार्यवाही करते हुए जेल भेजें।आवास एवं शौचालयों को अपात्रों को दिये जाने की शिकायत पर श्री खरे ने डीपीआरओ व पीडी को निर्देश दिये कि आवास व शौचालयों के सम्बन्ध में प्राप्त शिकायतों की जांच कराकर पात्रों को आवास एवं शौचालय उपलब्ध करायें। निराश्रित, बृद्वा एवं दिब्यांज पेंशन के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये कि जो भी पात्र पेंशन पाने से वंचित है उनके तत्काल प्रभाव से फार्म भराकर स्वीकृत के उपरान्त पेंशन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। समाधान दिवस में मुख्य विकास अधिकारी आनन्द कुमार, मुख्य चिकित्साधिकारी एसके रावत, डीएफओ राकेश चन्द्रा, अपर जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह, उप जिलाधिकारी सत्येन्द्र कुमार सिंह सण्डीला, सीओ सण्डीला, पीडी श्रीनिवास, जिला पंचायत राज अधिकारी अनिल कुमार सिंह, उप कृषि निदेशक डा0 आशुतोष कुमार मिश्रा सहित अन्य जिलास्तरीय अधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी, सीडीपीओ, थानाध्यक्ष आदि मौजूद रहे।

=>