ये 3 काम करके आप को बुढ़ापे में नहीं सताएगी पैसों की चिंता

नई दिल्ली। बुढ़ापे में पैसों के लिए किसी और पर आश्रित रहना किसी को भी अच्छा नहीं लगता है। खासकर के तब जब आपने जवानी में खूब पैसा कमाया और खर्च किया है। केंद्र सरकार ने आम आदमी को आर्थिक रुप से समृद्ध बनाने के लिए कई सारी योजनाएं चला रखी है। लेकिन इन स्कीम्स के बारे में अधिकांश लोगों को जानकारी नहीं होती है।

बुढ़ापे में सबसे बड़ा खर्च दवाइयों और इलाज का होता है और हम इन्हीं से जुड़ी योजनाओं की जानकारी दे रहे हैं। हम अपनी इस खबर के माध्यम से ऐसी तीन योजनाओं की जानकारी दे रहे हैं जिनमें निवेश कर आप अपने बुढ़ापे में पैसों की किल्लत को दूर कर सकते हैं।

अटल पेंशन योजना: असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के लिए यह एक फायदेमंद स्कीम है। 60 वर्ष की उम्र के बाद लोगों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के लिए केंद्र सरकार ने मई 2015 में अटल पेंशन योजना की शुरुआत की थी। लाभार्थियों को 60 साल की उम्र के बाद एक निश्चित रकम पेंशन के रूप में दी जाती है।

18 वर्ष से लेकर 40 वर्ष तक की उम्र वाले लोग इस योजना का फायदा ले सकते हैं। इसमें कम से कम 20 वर्ष तक निवेश करना होता है। 500 रुपए से लेकर 2500 रुपए तक सालाना निवेश आप 1 हजार से लेकर 5,000 रुपये तक की सालाना पेंशन का जुगाड़ कर सकते हैं। अब इस राशि को बढ़ाकर 10,000 रुपये किए जाने की सिफारिश हो रही है। आप बैंक या डाकघर के जरिए इस योजना से जुड़ सकते हैं।

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना: अधिकांश लोगों को बीमा के दायरे में लाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ही 9 मई 2015 को प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना लॉन्च की थी। 18 वर्ष से लेकर 70 वर्ष तक की आयु का कोई भी व्यक्ति इस योजना का लाभ ले सकता है। मात्र 12 रुपये के प्रीमियम पर आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

इस योजना के तहत दुर्घटना मृत्यु और पूर्ण अपंगता की स्थिति में 2 लाख रुपए और आंशिक अपंगता की स्थिति में 1 लाख रुपए तक का बीमा कवर दिया जाता है।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना: देश के गरीब एवं ग्रामीण परिवारों के लिए यह एक शानदार योजना है। समाज के ऐसे वर्ग को ही आर्थिक संकट से बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 9 मई 2015 को प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना लॉन्च की थी। 18 से 50 साल तक की आयु का कोई भी व्यक्ति इस बीमा योजना का लाभ ले सकता है।

इसके लिए लाभार्थियों को मात्र 330 रुपये सालाना का प्रीमयम देना होता है। यह एक तरह का टर्म इंश्योरेंस प्लान होता है। अगर लाभार्थी की मृत्यु हो जाती है तो उसके परिवार वालों को दो लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाती है।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com