पालीगंज में डीएसपी टीम और अपराधियों बीच मुठभेड़ , कुख्यात जुम्मन खां सहित 12 गिरफ़्तार

 अपराधियों ने पुलिस पर किया 60 -70 राउंड फायरिंग ,पुलिस ने भी 30 राउंड फायरिंग ,भारी मात्रा में हथियार बरामद

>> मछली मारने के विवाद को लेकर जुटे थे अपराधी ,नरसंहार की थी तैयारी

>> चार वर्ष पूर्व जमाऱू गांव में जुम्मन खां गिरोह ने किया था नरसंहार

पटना ( अ सं ) । डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे के बढाएं गये हौसले का असर पुलिस में दिखने लगा हैं । पालीगंज डीएसपी मनोज कुमार पांडे के नेतृत्व में छापेमारी करने गयी टीम पर अपराधियों ने गोलीबारी शुरू कर दिया । बचाव में पुलिस ने भी फायरिंग किया और घेराबंदी कर कुख्यात जुम्मन खां सहित 12 लोगों को गिरफ्तार कर लिया । पुलिस ने भारी मात्रा में हथियार ,कारतूस, बम बरामद किया हैं । अपराधियों की तैयारी ,फिर एक बार नरसंहार करने की थी। डीएसपी मनोज कुमार पांडे और पुलिस टीम की सक्रियता ने अपराधियों का प्लानिंग फेल कर दिया । पूर्व में भी मछली मारने को लेकर नरसंहार हो चुकी है जिसमें चार लोग मारे गये थे।
      डीएसपी मनोज कुमार पांडे को गुप्त सूचना मिली की पालीगंज थाना क्षेत्र के जमारू गांव में कुख्यात जुम्मन खां अपने साथियों सहित जुटा हुआ है और बडी घटना को अंजाम देने को तैयार हैं । इस सूचना पर डीएसपी मनोज पांडे ,पुलिस की छोटी टुकड़ियों के साथ ही जमाऱू स्थित उक्त जगह पर रेड के लिए पहुंचने के करीब ही थे की अपराधियों ने पुलिस पर गोलीबारी शुरू कर दिया । अपराधियों ने करीब 60 -70 राउंड फायरिंग किया ।
डीएसपी मनोज पांडे और इनके टीम ने जबाबी कार्रवाई करते हुये करीब 30 -40 राउंड फायरिंग किया ,वहीं पुलिस की दूसरी टीम भी उक्त घटना स्थल पर पहुंच गयी और घेराबंदी कर लिया ।  पुलिस से पुरी घिरा देख अपराधियों ने सरेंडर कर दिया और कुछ अपराधी भागने लगे । स्वयं डीएसपी मनोज पांडे  ने पीछा कर कुख्यात जुम्मन खां को दबोच लिया वहीं पुलिस टीम ने इसके 11 साथियों को भी गिरफ्तार कर लिया । पुलिस ने अपराधियों के  7 हथियार ,भारी मात्रा में कारतूस, बम आदी घातक हथियार बरामद किया हैं ।
  पुलिस सुत्रों की मानें तो जमारू गांव में मछली मारने को लेकर पूर्व से विवाद हैं ।जिसका वर्चस्व होता है वहीं तालाब का मछली मारता हैं । कुख्यात जुम्मन खां को अपने गांव के ही लोगों से विवाद हैं । कुख्यात जुम्मन खां फिर एक बार नरसंहार की तैयारी को लेकर जुटा था ।पुलिस ने उक्त स्थल से शराब की बोतलें , बने मीट आदी भी बरामद किया है ।पुलिस  की सक्रियता से बड़ी घटना टल गयी । पूर्व में मछली मारने को लेकर उक्त गांव में नरसंहार हो चुका है जिसमें चार लोग मारे गये थे।
=>