भाजपा व आरएसएस के लिये ‘चौकीदार’ का महत्त्व ईमानदारी का नहीं : मायावती

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने राफेल सौदे को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ईमानदारी पर सवाल उठाते हुए कहा है कि भाजपा व आरएसएस वालों के लिये ‘चौकीदार’ का महत्त्व है उसकी ईमानदारी का नहीं।
राफेल लड़ाकू विमान सौदे पर एक अग्रेंजी समाचार पत्र की रिपोर्ट के आधार पर मायावती ने आज अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया कि केन्द्र सरकार ने राफेल लड़ाकू विमान सौदे में भ्रष्टाचार विरोधी प्रावधान को समाप्त कर दिया था- द हिन्दू अंग्रेजी अख़बार का राफेल में आज का नया विस्तृत रहस्योदघाटन फिर भी नो प्राब्लम। आगे लिखा कि बीजेपी व आरएसएस वालों के लिये चौकीदार का महत्त्व है उसकी ईमानदारी का नहीं।
इसके बाद मायावती ने दूसरा ट्वीट किया और लिखा कि भ्रष्टाचार-मुक्ति, ईमानदारी, देशहित व राष्ट्रीय सुरक्षा सब कुछ चौकीदार पर न्यौछावर। अब चुनाव के समय चौकीदार सरकारी ख़र्चे पर देश भर में घूम-घूम कर सफाई दे रहें है कि वह बेईमान नहीं है बल्कि ईमानदार है। देश को सोचना है कि ऐसे चौकीदार का आखि़र क्या किया जाये?

=>