उत्तर प्रदेशलखनऊ

ज्वैलर्स कारोबारी ने रिवाल्वर से खुद को उड़ाया 

लखनऊ। राजधानी के महानगर थाना क्षेत्र में  बद्री ज्वैलर्स के मालिक सुधीर केसरवानी के छोटे बेटे  ने  गोली मारकर हत्या कर ली। बेटे का  खून से लथपत शव महानगर के विज्ञानपुरी स्थित दूसरे मकान में मिला। अनुज रविवार दोपहर से गायब था। पुलिस आत्महत्या के पीछे पत्नी से तलाक के बाद डिप्रेशन में होने की बात कह रही है।
बद्री ज्वैलर्स के मालिक सुधीर केसरवानी परिवार समेत महानगर स्थित विज्ञानपुरी के बी-711 में रहते है।  परिवार में दो बेटे अभिषेक और अनुज (38) है।  उनकी गुडंबा स्थित जगरानी हॉस्पिटल के पास बद्री ज्वैलर्स के नाम से शोरूम है।  महानगर पुलिस के अनुसार सुधीर का दूसरा मकान भी विज्ञानपुरी के बी-93 में है,जहां फैमिली मेम्बर्स नहीं रहते है जबकि मकान के बेसमेंट में उनके कर्मचारी और घरेलू नौकर रहते है। इंस्पेक्टर महानगर के अनुसार अनुज रविवार दोपहर एक बजे से लापता था। उसका मोबाइल फोन न मिलने से परिवार के  लोग उसे तलाश कर रहे थे। काफी तलाश के बाद भी उसका  पता नहीं चला। सोमवार सुबह घर में दूसरे मकान की चाबी न होने पर परिवार को शक हुआ कि वह घर से कुछ दूर स्थित दूसरे मकान में गया होगा। परिवार के लोग वहां पहुंचे तो अनुज का कमरा अंदर से लॉक था। मकान में रहने वाली नौकरी गुड़िया  ने बताया कि शाम 7 बजे अनुज वहां स्कूटी आया था। कुछ देर बात-चीत करने के बाद उसने खुद को कमरे में बंद कर लिया था।
अनुज ने कमरा बंद कर खुद को गोली मार ली। पुलिस की मदद से दरवाजा तोड़ कर उसके शव को बाहर निकाला गया। पुलिस ने बताया कि प्रथम दृष्टतया में प्रतीत हो रह है कि पिता की लाइसेंसी रिवाल्वर से अनुज ने सीने में गोली मारकर आत्महत्या कर ली है। फिलहाल पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही हत्या का स्पष्ट कारण पता चलेगा।
तलाक के बाद डिप्रेशन में था अनुज 
पुलिस के अनुसार अनुज की शादी 2013 में बलरामपुर में रहने वाली युवती से हुई थी।  शादी के दो साल बाद भी उनके रिश्ते में दरार आ गई।  जिसके बाद 2015 में तलाक हो गया था। तलाक के बाद से अनुज डिप्रेशन में रहने लगा था।  दो साल से उसका इलाज भी चल रहा था।  पुलिस ने बताया कि परिवार वाले किसी पर आरोप नहीं लगा रहे है। शिकायत करने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।
loading...

Related Articles

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com