इस तरह जाने कि गर्भवती औरत के गर्भ में लड़का है या लड़की

आज हम यदि गर्भवती औरत को लेकर बात करें तो आपको ये बता दें कि जब भी कोई औरत गर्भवती होती है तो उसे तथा उसके परिवारवालों को इस बात की बड़ी जिज्ञासा रहती है कि औरत को लड़का होगा या लड़की। बता दे कि भारत में लिंग परीक्षण गैर कानूनी और प्रतिबंधित है किन्तु फिर भी लोग अपने-अपने तरीकों से पता लगा लेते है।

पेट का आकार
गर्भ में लड़का है या लड़की इसका अनुमान अनेक औरतें गर्भवती महिला का पेट देखकर लगा लेती हैं। उनका ऐसा मानना है कि यदि पेट गोलाकार और बाहर की तरफ फूला हुआ है तो ये लड़के के आने के लक्षण है। वहीं, यदि पेट चौड़ा तथा गोलाई में है तो लड़की के संकेत होते हैं।

रिंग टेस्ट
कुछ देशों में इसका पता एक टोटके से किया जाता है। टोटका ऐसा है कि शादी अंगूठी में एक पतला धागा बांधकर गर्भवती औरत को सीधे लेटकर उसके पेट के ऊपर अगर आप इस धागेयुक्त रिंग को लटकाते हैं तो यदि अंगूठी गोलाकार घुमने लगे तो इसका अर्थ होगा लड़की तथ यदि रिंग राइट या लेफ्ट हिलने लगे तो यह लड़का होने के संकेत माना जाता है।

मूड में परिवर्तन होना
एक अध्ययन के अनुसार, गर्भवती महिलाएं प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में हर बात पर दु:ख या पछतावा महसूस करती हैं तो ये बताया जाता है कि लड़का होगा तथा यदि वे खुद से मिली जुली भावनाएं महसूस करती हैं तो लड़की होती है।

खानपान
एक अध्ययन के अनुसार, जिस मां को खाने से नफरत या उल्टी की काफी अधिक शिकायत रहती है उनका होने वाला बच्चा लड़का होता है।

बेकिंग सोडा टेस्ट
खाने का मीठा सोडा भी जेंडर टेस्ट करने में मदद करता है। इसके लिए आप एक कटोरी में गर्भवती औरत का मूत्र लेकर उसमें बेकिंग सोडा डाले। यदि सोडा डालने के बाद झाग तथा बुलबुले बनते हैं तो गर्भ में लड़की है और सोडे में किसी भी तरह का बदलाव न हो तो लड़का होता है।

क्या खाने का करता है मन
जिन औरतों को को मीठा खाने की इच्छा होती है उनके गर्भ में लड़की होती है और जिन्हें चटपटा, खट्टा या मसालेदार खाना खाने की इच्छा होती है तो यह लड़का होने के संकेत है।

त्वचा सम्बन्धी समस्या
अनेक लोगों का ये मानना है कि गर्भवती औरत के मुंह पर एक्ने, मुहासे और झाइयां जैसी समस्याएं ज्यादा होती हैं तो लड़के के संकेत है। वहीं, यदि उसके रंग रूप में निखार आता है तो यह लड़की होने के संकेत होते हैं।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com