मायावती खुद चुनाव नहीं लड़ेंगी लेकिन करेंगी मुलायम सिंह यादव के लिए प्रचार

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान हो चुका है, 11 अप्रैल से पहले चरण का चुनाव होना है। चुनाव की तारीखे जैसे-जैसे नजदीक आ रही हैं वैसे-वैसे राजनीतिक दलों के पत्ते भी खुलने लगे हैं। बता दें कि अब बसपा सुप्रीमों मायावती को लेकर खबर आई है कि वो मुलायम सिंह यादव के लिए प्रचार करेंगी।

किसी जमाने में मायावती और मुलायम सिंह एक दूसरे के धुरविरोधी मानें जाते थे। गेस्ट हाउस कांड में मायावती के साथ क्या हुआ था ये किसी से छिपा नहीं है। उसके बाद सपा-बसपा मोदी को हराने के लिए एकसाथ चुनाव लड़ने के लिए मजबूर हुए हैं। हालांकि इस बार मायावती चुनाव नहीं लड़ेंगी लेकिन वो मुलायम सिंह यादव के लिए मैनपुरी में प्रचार जरूर करेंगी।

इतना ही नहीं मायावती डिंपल और अखिलेश यादव के लिए भी चुनाव प्रचार करेंगी। अकेले यूपी में ही मायावती की तैयारी 39 चुनावी सभाएं करने की है। अपनी चुनावी रैली की शुरुआत मायावती 7 अप्रैल को देवबंद से करेंगी। यह मौका काफी अहम होगा क्योंकि मायावती और अखिलेश यादव पहली बार किसी चुनावी मंच पर एकसाथ होंगे। मायावती ने तो मुलायम सिंह यादव के लिए मैनपुरी जाकर वोट माँगने का फ़ैसला किया है। 19 अप्रैल को वहां समाजवादी पार्टी और बीएसपी की साझा रैली है।

कभी अपने अपमान को लेकर मुलायम सिंह यादव से दूरी बनाने वाली मायावती मैनपुरी में मुलामय सिंह यादव के साथ मंच साझा करेंगी। इस रैली पर सभी की निगाहें बनी हुई हैं क्योंकि पच्चीस सालों से दोनों को एक दूसरे की शक्ल तक देखना पसंद नहीं रहा। अखिलेश यादव की कोशिश से दोनों नेता साथ तो आ गए, लेकिन अब दिलचस्प ये है कि पब्लिक के सामने ये एक दूसरे के लिए क्या कहते हैं।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com