जौनपुर: दोहरे हत्याकांड में फरार हत्यारोपियों पर ईनाम घोषित

 

दस दिन बीतने के बाद भी पुलिस हत्यारों का सुराग नही लगा सकी

शाहगंज। कोतवाली क्षेत्र के मुजफ्फरपुर पट्टी चकेसरगांव में दस दिन पूर्व रविवार को जमीनी विवाद में हुई दोहरी हत्या के फरार आठ आरोपियों पर पुलिस अधीक्षक ने बीस-बीस हजार रुपये का ईनाम घोषित किया है।

प्रभारी निरीक्षक ने विज्ञप्ति के माध्यम से बताया कि घटना के बाद फरार चल रहे आरोपी राधेश्याम उर्फ जोखेलाल, धर्मेन्द्र दुबे, वीरेन्द्र उर्फ भीम, मोनू दुबे, रवीन्द्र दुबे, अभिषेक उर्फ बुटुर, पवन उर्फ गोलू, विपिन दुबे पुत्रगण राधेश्याम उर्फ जोखेलाल पर बीस बीस हजार रुपये का ईनाम घोषित किया गया है। हत्यारोपियों की सूचना देने वालों को पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी द्वारा ईनाम की राशि दी जाएगी एवं उनका नाम गुप्त रखा जाएगा।

बताते चलें कि बीते रविवार को जमीनी विवाद को लेकर पट्टीदारों ने सुबह में राम उग्रह दुबे के परिवार को जान से मारने की धमकी दी थी। जिसपर पीड़ित ने घटना की खबर कोतवाली पुलिस को दी। पुलिस ने मामले को हलके में लिया और पट्टीदारों ने देर रात घर पर चढ़कर ताबड़तोड़ फायरिंग करके राम केवल दुबे की हत्या कर दी। घायल राम उग्रह की दूसरे दिन सोमवार दोपहर वाराणासी के ट्रामा सेंटर में मौत हो गयी। वहीं राम केवल के पुत्र अरविंद दुबे का वाराणसी में उपचार चल रहा है। घटना के बाद पुलिस की सात टीमें गिरफ्तारी के लिए लगाई गयीं। लेकिन दस दिन बीतने के बाद भी पुलिस हत्यारों का सुराग नही लगा सकी।
Posted by: श्रीप्रकाश वर्मा

=>