बोले रामगोपाल : वोट के लिए जवान मार दिए गए

लखनऊ। पुलवामा में हुए आतंकी हमले पर अब समाजवादी पार्टी के प्रमुख महासचिव राम गोपाल यादव ने वोट के लिये घटना को अंजाम दिये जाने का बयान दिया है। सपा के वरिष्ठ नेता ने पुलवामा आतंकी हमले को सजिश करार देते हुए कहा कि वोट के लिए जवान मार दिए गए।

सैफई में होली मिलन समारोह के दौरान सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की उपस्थिति में राम गोपाल ने कहा- ‘पैरामिलिट्री फोर्सेज सरकार से दुखी है। वोट के लिए जवान मार दिए गए। जम्मू-श्रीनगर के बीच में चेकिंग नहीं थी। साधारण बसों से जवानों को भेज दिया गया। यह साजिश थी। इस पर अभी नहीं कहना चाहता, जब सरकार बदलेगी तो इसकी जांच होगी और बड़े-बड़े लोग फंसेंगे।’

चुनाव के बीच सपा के वरिष्ठ नेता के ऐसे बयान से राजनीतिक गलियारे में हलचल पैदा कर दी है। राम गोपाल यादव सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के काफी करीबी माने जाते हैं। वह सपा के रणनीतिकार भी कहे जाते हैं। यह बयान पार्टी के लिए चुनाव से पहले मुसीबत खड़ी कर सकता है।

सपा नेता राम गोपाल यादव के बयान पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह बयान घटिया राजनीति का भद्दा उदाहरण है। उन्हें सीआरपीएफ के जवानों की शहादत पर प्रश्न खड़ा करने और देश के जवानों का मनोबल तोड़ने वाले इस बयान के लिए जनता से माफा मांगनी चाहिए।

इससे पहले कांग्रेस नेता बीके हरिप्रसाद ने भी पुलवामा पर विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था, ‘यदि पुलवामा हमले के बाद के घटनाक्रम पर नजर डालेंगे तो पता चलता है कि पीएम नरेंद्र मोदी और इमरान खान के बीच मैच फिक्सिंग थी।’ इस पर भाजपा ने कांग्रेस पर पलटवार करते हुए कहा था कि यह सब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के इशारे पर हो रहा है।

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आत्मघाती में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के 40 जवान शहीद हो गए थे। पुलवामा जिले में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर अपनी विस्फोटकों से लदी एसयूवी सीआरपीएफ की बस से टकरा दी और उसमें विस्फोट कर दिया था। इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी।

=>