उत्तर प्रदेश

हरदोई- चूल्हे की चिंगारी से लगी आग कई घर जलकर हुई राख

बिलग्राम हरदोई ।। कोतवाली क्षेत्र के छिबरामऊ अंतर्गत उम्मेद पुरवा और मक्कू पुरवा में रात लग भग पौने ग्यारह बजे जशोदा के घर से एक दम तेज लपटे निकलने लगी जब तक गांव वाले कुछ समझ पाते तब तक आग ने बीसों घरों को अपनी आगोश में ले लिया और देखते ही देखते सब कुछ जल कर राख हो गया ।
बिलग्राम तहसील के अन्तर्गत आने वाले गांव मक्कू पुरवा और उम्मेद पुरवा कुछ वर्ष पहले गंगा नदी के कटान से कट गये थे जो परसोला गांव के निकट एक ही जगह में बसे हैं ।
ग्रामीणों ने बताया की रात लग भग पौने ग्यारह बजे बहुत तेज आंधी चल रही थी सभी लोग अपने अपने घरों में सो रहे थे गांव वालों के मुताबिक गांव की जशोदा के घर में शाम को चूल्हे पर रोटियां बनायी गयीं थी आग को चूल्हे में ही रारव से ढक दिया रात को जब आंधी चलने लगी तो उसी चूल्हे से उड़ी चिंगारी ने पहले जशोदा के घर को अपनी आगोश में ले लिया फिर सुनील,रामचन्दर,श्रीकृष्ण,रामसागर,प्रमोद,गयालाल,सुल्तान,सोहन,मनोज,शिबपाल,टीकाराम,रणधीर,प्रकाश,रामबिलास,सुंदरलाल,लालाराम,गंगासागर,नंदकिशोर,अनिल आदि के घरों की गृहस्थी जलकर राख हो गयी।वहीं जशोदा की बारह कुंटल सरसों सहित घर में रक्खा धान गेहूं जेवर सहित सारा घर का सामान जलकर राख हो गया ऐसे ही श्रीकृष्ण रामसागर गयालाल
रामबिलास सुल्तान आदि लोगों के यहां घर में रखा जेवर नगदी अन्य सभी अनाज कपड़े बिस्तर व घर में उपयोग होने बाली सभी चीजें जलकर राख हो गयी ग्रामीणों ने बताया की हवा इतनी तेज थी की कुछ भी उठा पाना मुश्किल था ग्रामीणों ने गंगा जी में पम्पसेट लगाकर आग पर काबू पाया वही पुलिस प्रशासन को पता चलते ही रात में ही थानाध्यक्ष अमरजीत सिंह हल्का इंचार्ज व अन्य पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और हालात का जायजा लिया सुबह होते ही हल्का लेखपाल ने हादसे की जांच पड़ताल की। तथा दोपहर बाद बिलग्राम उपजिलाधिकारी सतेन्द्र कुमार सिंह ने भी आग से हुए नुकसान की पड़ताल की और कई गांव में खाने के लिए राशन आदि का वितरण करवाया

loading...
=>

Related Articles