मुठभेड़ में अन्तर्राज्यीय शातिर इनामी बदमाश गिरफ्तार

लखनऊ। एसटीएफ ने  प्रयागराज से बैंक लूट में फरार इनामी बदमाश को वाराणासी से गिर तार करने में सफलता हासिल की है। पकड़े गये आरोपित के कब्जे से एक कट्टा 315 बोर,दो जिन्दा कारतूस व फ र्जी आधार कार्ड बरामद हुआ है। आरोपित के खिलाफ हत्या,लूट समेत व्यापारियों से रंगदारी वसूलने समेत कई मामले भी दर्ज है।
एसटीएफ के एसएसपी अभिषेक सिंह ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर जनपद प्रयागराज से 25 हजार रूपये व मध्य प्रदेश के जनपद सतना से 5 हजार रूपये का पुरस्कार घोषित अपराधी पंकज गुप्ता उर्फ राहुल उर्फ पवन बिहारी जनपद बिहार को जनपद वाराणासी के थाना कैण्ट क्षेत्रान्तर्गत टकटकपुर गैस गोदाम तिराहा के पास गिर तार किया गया है। आरोपित अपने किसी साथी के आने का इन्तजार कर रहा था। उन्होंने बताया कि गिर त में आया आरोपित एसटीएफ टीम जब पंकज गुप्ता को आत्मसमर्पण हेतु कहा गया, तो उसने पुलिस टीम पर फायर करते हुये भागने का प्रयास करने लगा। पुलिस टीम ने आवश्यक बल का प्रयोग करके मौके से गिर तार कर लिया। गिर तार अभियुक्त से पूछताछ में बताया कि पढ़ाई के दौरान उसका स पर्क छपरा बिहार के अंबिका राय से हो गया था। अंबिका राय के कहने पर वह मादक पदार्थ की तस्करी करने लगा। वर्ष 2008 में नारकोटिक्स कण्टंोल ब्यूरो वाराणसी में 8 किलोग्राम चरस की तस्करी में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।
जेल में सीखे अपराध के तरीके
पूछताछ में आरोपित पंकज ने बताया कि जिला कारागार वाराणसी के अन्दर कई शातिर अपराधियों के साथ-साथ जिला जेल में बन्द शातिर अपराधी हैदर अली निवासी बड़ी पियरी थाना चौक जनपद वाराणसी के स पर्क आ गया, जमानत पर छूटने के बाद हैदर अली के साथ रहकर अपराध करने लगा। चरस के मुकदमें में पेशी पर न जाने के कारण से गिर तारी का वारण्ट जारी हुआ और भगौड़ा घोषित कर दिया गया तभी से फरार चल रहा था। वर्ष 2013 में जनपद वाराणसी के थाना कैण्ट क्षेत्रान्तर्गत डिप्टी जेलर अनिल त्यागी की हत्या में भी यह वांछित रहा। इसके अलावा वर्ष 2014 में हैदर अली के कहने पर इसने अपने चार साथियों बबलू खान, जनार्दन यादव, सिन्टू मौर्या एवं विषाल यादव के साथ मिलकर जनपद प्रयागराज के थाना थरवई क्षेत्रान्तर्गत बैंक लूट किया था। इस बैंक लूट के कुछ समय बाद पुन: वर्ष 2014 में ही अपने इन्हीं साथियों के साथ जनपद प्रयागराज के थाना उतरांव क्षेत्रान्तर्गत सनसनीखेज तरीके से दूसरीबैंक लूट की गयी, इसी मुकदमें में 25 हजार रूपये का पुरस्कार घोषित किया था। इन दोनों बैंक लूट के बाद मध्य प्रदेश के जनपद सतना में थाना मैहर क्षेत्रान्तर्गत एक बैंक लूट की गयी, जिसमें इस बैंक लूट में शामिल राजाराम दहिया को  गिरफ्तारी कर घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल को मध्य प्रदेश पुलिस द्वारा बरामद कर लिया गया था, परन्तु यह अब तक इस घटना में फ रार चल रहा है। जिसमें इसके ऊपर वहां से 5 हजार रूपये का पुरस्कार अलग से घोषित था। इसके बाद से गिरफ्त में आया आरोपित फरार चल रहा था।

=>