Main Sliderबिहार

वो हमारे चाचा हैं और रहेंगे, लेकिन अब अच्‍छे चाचा नहीं रहे।” तेजस्‍वी बम

 

पटना। राजद की भाजपा भगाअो देश बचाओ रैली में राजद अध्‍यक्ष लालू प्रसाद यादव के पुत्र और बिहार के पूर्व उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की जमकर खबर ली। तंज काते हुए कहा कि नीतीश आज भी चाचा हैं, लेकिन अच्‍छे चाचा नहीं रहे। अाज से उनकी उल्‍टी गिनती श्‍ुारू हो गई है। पीएम मोदी पर भी हमलावर होते हुए उन्‍हें ‘बड़-बड़’ व ‘गड़बड़’ मोदी करार दिया।

विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने तंज कसते हुए जनता से मुखातिब होकर कहा, ”आप सब कहें तो अपने प्रिय चाचा नीतीश जी को भी हाथ जोड़कर प्रणाम करते हैं। हमारे परिवार ने बड़े-बुजुर्गों का सम्‍मान करना सिखाया है। वो हमारे चाचा हैं और रहेंगे, लेकिन अब अच्‍छे चाचा नहीं रहे।”
नीतीश कुमार पर हमलावर होत हुए तेजस्‍वी ने कहा कि वे हमारा साथ छोड़कर भले ही चले गये, लेकिन महागठबंधन टूटा नहीं है। असली जदयू के नेता हमारे चाचा शरद यादव हैं। आगे कहा, ”हमारे प्रिय चाचा नीतीश जी की आज से उल्‍टी गिनती शुरू हो गई है।”

तेजस्‍वी ने कहा कि नीतीश ने संघमुक्‍त भारत बनाने का वादा किया था, लेकिन आज संघ की गोद में जाकर बैठ गये हैं। ‘हे राम’ की जगह ‘जय श्रीराम’ कहने लगे हैं। वे गांधी जी के हत्‍यारों के साथ जा मिले हैं। नीतीश ने गांधी के विचारों को कलंकित किया है।
तेजस्‍वी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा पर भी जमकर हमला किया। कहा कि उनका नारा था- ”हर-हर मोदी, घर-घर मोदी”, लेकिन यह असल में ”बड़-बड़ मोदी, गड़बड़ मोदी” है।

फिर नीतीश पर स्‍वीच-ओवर करते हुए तेजस्‍वी बाले, सृजन घोटाला के पाप को छुपाने के लिए वे भाजपा की गोद में जा बैठे। कहा कि सृजन घोटाले में जदयू और भाजपा के नेता शामिल हैं। उन्‍हें बचाने के लिए लीपापोती की जा रही है। नीतीश जी भागलपुर गये थे ताकि सबूतों को मिटा दिया जाये। सृजन में भी दो मौत हो चुकी है। जो मुख्‍य आरोपी था, उसकी रहस्‍यमय तरीके से मौत हो गई।
तेजस्‍वी ने कहा कि वे भालगपुर गये तो वहां धारा 144 लगा दिया। हमारे ठहरने की व्‍यवस्‍था तक नहीं की। ये लोग डरे हुए लोग हैं। जनादेश की डकैती की है, इसलिए डर गए हैं।

कहा, नीतीश कुमार पर आर्म्‍स एक्‍ट का मुकदमा चल रहा है। दिल्‍ली हाईकोर्ट ने 20 हजार का जुर्माना लगा दिया है। सुशील मोदी पर कई मुकदमे हैं। वे इस्‍तीफा नहीं देंगे। लेकिन, तेजस्‍वी को बेवजह फंसा कर भाजपा की गोद में जा बैठे। लालू प्रसाद के पूरे परिवार को झूठे मुकदमों में फंसा दिया। लेकिन, हम डरने वाले नहीं हैं। लालू जी का खून है। उन लोगों ने जो भ्रष्‍टाचार किया है, वो सब सामने आयेगा।

तेजस्‍वी ने नीतीश से सवाल किया, ”अब आपकी अंतरात्‍मा कहां गई? क्‍या वह मोदी आत्‍मा थी या कुर्सी आत्‍मा थी? नीतीश कुमार ने हमारी पीठ में छुरा घोंपने का काम किया। जनादेश का अपमान किया। रैली की ओर इशारा करते हुए कहा कि यह जनसैलाब उसी अपमान का बदला लेने आयी है।

तेजस्‍वी ने आगे कहा, नरेंद्र मोदी ने बिहार के डीएनए पर सवाल उठाया था। नीतीश और उनके लोगों ने बाल और नाखून काटकर दिल्‍ली भेजे थे। क्‍या हुआ उस डीएनए की जांच का? तेज कसते हुए कहा, उस रिपोर्ट को दिल्‍ली से लाकर पटना के म्‍यूजियम में रख दिया जाये।
तेजस्‍वी ने कहा, ऐसा कोई सगा नहीं, जिसे नीतीश ने ठगा नहीं। नीतीश कुमार जी ने सभी लोगों के साथ धोखा किया है। भाजपा को अभी ही उनसे एफिडेविट पर लिखवा लेना चाहिए कि वे फिर से पलटी नहीं मारेंगे।

 

loading...
Loading...

Related Articles