देश को आगे बढ़ाने में व्यापारियों की भूमिका का सम्मान करता हूँ-नरेन्द्र मोदी

तालकटोरा स्टेडिय में आयोजित राष्ट्रीय व्यापारी धन्यवाद महासम्मेलन को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सम्बोधित किया

कांग्रेस के जमाखोरों ने मंहगाई का फायदा उठाया और तोहमत सभी व्यापारी वर्ग को झेलनी पड़ती थी-नरेन्द्र मोदी

पांच सालों में व्यापारियों के हितों में 1500 कानूनों को खत्म कर दिया-नरेन्द्र मोदी

जीएसटी में आने वाली 98 प्रतिशत वस्तुओं पर लगने वाला टैक्स 18 प्रतिशत तक कम किया है-नरेन्द्र मोदी

व्यापारी रोज का हिसाब लगाते हैं, मैं भी देश के विकास के लिए रोज का हिसाब लगाता हूँ, व्यापारी वर्ग देश के विकास का सबसे बड़ा स्टेक होल्डर है-नरेन्द्र मोदी
पहले देश में सरकार चलाने वाले अपने आपको ईमानदार कहते थे और बाकी व्यापारियों को चोर समझते थे-नरेन्द्र मोदी

युवा पीढ़ी जो पुस्तैनी व्यापार नहीं संभालती थी अब उसी व्यापार में डिजिटल व्यवस्था लाकर अपनी आय दो गुनी कर रही है-नरेन्द्र मोदी
आज हर स्कूल, हर अस्पताल, हर धर्मशाला के बोर्ड पर किसी व्यापारी का नाम देखा जा सकता है-नरेन्द्र मोदी

आपका चैकीदार आपके साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने को तैयार है

नई दिल्ली, 20 अप्रैल। भारत माता की जय, फिर एक बार मोदी सरकार और मोदी है तो मुमकिन है के जोशीले नारो के बीच दिल्ली के व्यापारियों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में भव्य स्वागत किया और उन्हें 2019 में पुनः देश की सत्ता सौंपने का संकल्प लिया। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने राष्ट्रीय व्यापारी धन्यवाद महासम्मेलन में देश व दिल्ली के व्यापारियों को सम्बोधित किया। इस कार्यक्रम में दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी, केन्द्रीय मंत्री डाॅ. हर्ष वर्धन, विजय गोयल, प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू, नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र गुप्ता, सांसद महेश गिरी, रमेश बिधूड़ी, प्रवेश वर्मा, श्रीमती मीनाक्षी लेखी, डाॅ. उदित राज, प्रदेश संगठन महामंत्री सिद्धार्थन, महामंत्री कुलजीत सिंह चहल, रविन्द्र गुप्ता, राजेश भाटिया पूरे देश से आये व्यापारी और व्यापारी संगठनों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। केन्द्रीय मंत्री विजय गोयन ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की और कैट के महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने कार्यक्रम का संचालन किया।
तालकटोरा स्टेडियम में व्यापारियों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि देश के कोने-कोने में बैठे तकनीक के माध्यम से सुनने वाले व्यापारियों का मैं आभार प्रकट करता हूँ। चुनाव की व्यस्तता के बीच व्यापारियों से संवाद करने का अवसर मिला जो कि मेरे लिए बहुत महत्वपूर्ण है। देश को आगे बढ़ाने में व्यापारियों की भूमिका है मैं उसका सम्मान करता हूँ। पांच वर्षों में भाजपा सरकार ने व्यापार को सुगम करने की कोशिश की है, आप सभी टैंशन फ्री हो कर बिना किसी डर के अपना व्यापार करें। देश की अर्थव्यवस्था में ईमानदारी बढ़ेगी, पारदर्शिता बढ़ेगी, उसकी मजबूती देश के विकास में मददगार साबित होगी।
श्री मोदी ने कहा कि व्यापारियों की ताकत के कारण ही भारत को सोने की चिड़िया कहा जाता था, कंबोडिया से ईरान तक विश्व के कोने-कोन तक भारतीय संस्कृति का अगर किसी ने विस्तार किया है तो वे व्यापारी हैं। मैं आप सभी की कड़ी मेहनत से प्रभावित हूँ, 12 घंटे दुकान में कैद होकर मेहनत करने की सीख आपसे मिलती है। व्यापारी वर्ग एक तरह से सच्चे मौसम वैज्ञानिक होते हैं। व्यापारियों को पहले से पता होता है कि आने वाले दिनों में किसको क्या चाहिये, कब कितनी मात्रा में क्या वस्तु चाहिये वे पहले से ही भांप लेते हैं। व्यापारियों से सीखा जा सकता है कि कम साधनों में उच्च परिमाण निकाला जाता है।
प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा कि कांग्रेस के शासनकाल में जो भी गड़बड़ होती थी उसका आरोप व्यापारियों पर ही थोपा जाता था। कांग्रेस के जमाखोरों ने मंहगाई का फायदा उठाया और तोहमत सभी व्यापारी वर्ग को झेलनी पड़ती थी। कारोबारियों को देश में कानून और कानूनों में जंगल झेलना पड़ता था। पहले सरकार रोज नये-नये कानून बनाती थी। 2014 में एनडीए की सरकार आते ही मैंने शपथ ली थी कि इन विभिन्न कानूनों को खत्म करूंगा। मैं भी नेता हूँ लेकिन मैं अपवाद हूँ। मैंने पांच सालों में व्यापारियों के हितों में 1500 कानूनों को खत्म कर दिया है।
श्री मोदी ने कहा कि जिस प्रकार ईज आफ डूइंग बिजनेस में भारत का नाम ऊंचा हुआ है उसी प्रकार हम ईज आफ लिंविंग की ओर आगे बढ़ रहे हैं, पहले देश हमारा, सरकार हमारी, देश के नागरिकों को कुछ भी चाहिये होता था तो विभिन्न समस्याओं से जूझना पड़ता था जो मुझे खटकता था। इस दिशा में हम ईज आफ लिंविंग का कंसेप्ट लाकर सरलता ला रहे हैं। पहले देश में सरकार चलाने वाले अपने आपको ईमानदार कहते थे और बाकी व्यापारियों को चोर समझते थे।
स्कूल, काॅलेज में दाखिले फार्म पर ठप्पा लगाने के लिए नेताओं के चक्कर काटने पड़ते थे। मैंने नियम बनाया कि देश का प्रत्येक नागरिक अपने आवेदन फार्म को स्वयं सत्यातिप कर सकता है और वह मान्य होगा। देश के नागरिकों पर हमारी सरकार ने पूर्ण विश्वास किया। हर इंसान के लिए मान-सम्मान बड़ा होता है, हमारे देश में विशेषकर व्यापारियों को मान-सम्मान देने में पहले कोताही की जाती थी जिसकी जिम्मेदार पुरानी सरकारें हैं। व्यापारियों को गाली दो और जनता में भ्रम फैलाओ। वन नेशन वन टैक्स जीएसटी आने से और ई-वे बिल के माध्यम से व्यापार को सुगम बनाया। जीएसटी आने के बाद व्यापार में पारदर्शिता आई है। यही कारण है कि जीएसटी रजिस्टर्ड व्यापारियों की संख्या दो गुनी हुई है, देश का राजस्व बढ़ा है।
मोदी ने कहा कि व्यापारियों के सुझाव से जीएसटी में विभिन्न परिवर्तन किये गये, बदलाव के लिए अब अगले बजट तक इंतजार नहीं करना पड़ता है। जीएसटी में आने वाली 98 प्रतिशत वस्तुओं पर लगने वाला टैक्स 18 प्रतिशत तक कम किया है। 40 लाख रूपये से अधिक सालाना व्यापार करने वाले व्यापारी ही जीएसटी पंजीकरण में आयेंगे। जीएसटी प्रक्रिया को लगातार सरल बना रहे हैं। ईज आफ डूइंग में आज भारत 77वें स्थान पर आ गया है जिसमें व्यापारियों का महत्वपूर्ण योगदान है। मैं रूकने वाला नहीं, हम अगले पांच सालों में 50वें स्थान पर आ जायेंगे।
युवा पीढ़ी जो पुस्तैनी व्यापार नहीं संभालती थी अब उसी व्यापार में डिजिटल व्यवस्था लाकर अपनी आय दो गुनी कर रही है। 4.5 करोड़ व्यापारियों को बिना गारंटी के मुद्रा लोन दिया गया। भाजपा की सोच रही है कि व्यापारियों को पैसा मिले, सही दर पर मिले, तकनीक अच्छी हो, सरकार का हस्ताक्षेप कम हो। आज सरकार एक करोड़ रूपये का लोन एक घंटे से कम समय में दे रही है। एमएसएमई में लोन के बयाज में छूट और निर्यात में मदद सरकार करेगी। एमएसएमई को बाजार मिले इसलिए सरकार यह स्पेशल पैकेज दे रही है। अभी तक 19 हजार करोड़ रूपये का लोन व्यापारियांे को दिया गया है जो 2024 तक एक लाख करोड़ रूपये तक करने का संकल्प है। मिनीमम गोवर्नमेंट मेक्सीमम गवर्नेन्स पर चलकर व्यापारियों को लाभ पहुंचायेगी।
श्री मोदी ने कहा कि एक करोड़ रूपये का व्यापार करने वाले व्यापारियों को 8 लाख रूपये आय घोषित करने की जो अब 6 लाख रूपये हो गई जिसमें एक लाख बचत योजना में निवेश करने वालों को कोई टैक्स नहीं देना होगा। इंस्पेक्टर राज का विरोध, चुंगी का विरोध और व्यापारियों की सभी समस्याओं का विरोध हमारी सरकार ने किया। 130 करोड़ देशवासियों के आशीर्वाद से गंदगी, गरीबी, अशिक्षा, आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ने में हम सफल हो पाये। हमारे प्रयासों की जीत भारत की जीत है। हम हर भारती की जिंदगी बनाने के लिए दिन रात काम कर रहे हैं।

श्री मोदी ने कहा कि मैं सेवक हूँ इसलिये एक जानकारी आपको देना चाहता हूँ। हर रोज उज्ज्वला के तहत 70 हजार गैस कनेशन गरीब माताओं-बहनों को दिये जा रहे हैं। हर रोज 50 हजार घरों को बिजली दी जा रही है। हर रोज 2 लाख से अधिक लोगों के जनधन योजना के तहत खाते खोले जा रहे हैं। हर रोज एक लाख से अधिक लोगों को मुद्रा लोन दिया जा रहा है। आप व्यापारी लोग रोज का हिसाब लगाते हैं, मैं भी देश के विकास के लिए रोज का हिसाब लगाता हूँ। व्यापारी वर्ग देश के विकास का सबसे बड़ा स्टेक होल्डर है।
प्रधानमंत्री मोदी ने अंत में व्यापारियों को सम्बोधित करते हुये कहा कि कांग्रेस के नामदारों ने व्यापारियों को हमेशा चोर की संज्ञा दी। कांग्रेस के नामदारों को देश के इतिहास में व्यापारियों के योगदान का कोई पता नहीं। आज हर स्कूल, हर अस्पताल, हर धर्मशाला के बोर्ड पर किसी व्यापारी का नाम देखा जा सकता है। भाजपा का संकल्प पत्र उसका का विस्तार है। 23 मई, 2019 को फिर एक बार मोदी सरकर बनने जा रही है और मैं आपको विश्वास दिलाना चाहता हूँ कि राष्ट्रीय व्यापारी आयोग के गठन के बाद ही सरकार और व्यापारी के बीच सीधा संवाद हो सकेगा। राष्ट्रीय खुदरा व्यापार नीति बनाई जायेगी। जीएसटी के तहत पंजीकृत व्यापारियों को 10 लाख रूपये का दुर्घटना बीमा। किसान क्रेडिट कार्ड की तरह व्यापारी क्रेडिट कार्ड बनेगा, छोटे दुकानदारों को 60 साल की उम्र के बाद पेंशन मिलेगी। 70 साल तक इस बात पर किसी ने ध्यान ही नहीं दिया कि व्यापारियों की समस्याओं के लिए कौन सा विभाग जिम्मेदार है। हम वाणिज्य मंत्रालय के तहत एक विभाग बनाने जा रहे हैं। 50 लाख तक का लोन बिना कोलेटरल के दिया जायेगा। 2024 तक 50 हजार स्टार्टअप सेन्टर बनाये जायेंगे। आपका चैकीदार आपके साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने को तैयार है।

=>
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com