प्रेमी प्रेमिका को मार कर एक ही दुप्पटे में बांधा और फेका नहर में, पुलिस बता रही आत्महत्या

गोसाईगंज के इन्द्रा बैराज के पास नहर में उतरते मिले शव

लखनऊ। नहर में अज्ञात शवों के मिलने का सिलसिला थमने का नाम नही के रहा है। चिनहट, नगराम के बाद अब गोसाईगंज इलाके में एक प्रेमी युगल का करीब दस से बारह दिन पुराने शव मंगलवार को गोसाईगंज के इंद्रा बैराज के पास गेट से फसे हुए मिले। शवों को देखकर लगता है कि पहले उन प्रेमी युगल को पीट पीट कर मौत के घाट उतारा गया उसके बाद दोनों को शवों को युवती के दुपट्टे और बेल्ट से बांध कर शवों को नहर में फेक दिया गया। शव मिलने की सूचना से हड़कप मच गया। आनन फानन में पुलिस के आलाधिकारियों सहित थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गयी। जिसके बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। ाबर लिखे जाने तक पुलिस शवों की शिना त नहीं कर पाई थी।
गोसाईगंज थानाध्यक्ष विजय सिंह के अनुसार उन्हें मंगलवार की सुबह करीब साढ़े सात बजे दो शव नहर में होने की सूचना क्षेत्र के ग्रामीणों ने दी। पुलिस ने गोताखोरों की मदद से दोनों शवों को नहर से बाहर निकला। शव दस से बारह दिन पुराने व पानी में पड़े रहने के कारण फूल गये जिससे शवों की शिना त नही हो सकी। शवों से कोई भी कागजात नहीं मिले। थानाध्यक्ष गोसाईगंज के मुताविक युवक ने नीली पैंट व हरा लाल चेक में शर्ट तथा युवती ने नेविब्लू पैंट व कढ़ाई दार कुर्ता पहन रखा था दोनों शवों को आमने सामने एक दुपट्टे से कमर और चमड़े की बेल्ट से दोनों के एक एक पैर बंधे थे। शव ज्यादा दिन पुराना होने के कारण युवती के बाल भी सर से झड़ चुके थे। शवों की शिना त का प्रयास किया गया लेकिन नहीं हो सकी। गोसाईगंज पुलिस के मुताविक शव कहीं दूर से बहकर यहां तक पहुँचे है। दोनों प्रेमी युगल की स्थित देखकर ऐसा लगता है कि दोनों के आत्महत्या की है। जबकि स्थानीय सूत्रों की माने तो ये किसी आनर क्लिंग की ओर इशारा कर रही है। शवों को देखकर लगता है कि पहले दोनों को पीटा गया उसके बाद बांधकर नहर में फेक दिया गया। पुलिस ने शिना त न होने के बाद दोनों शवों का पंचनामा कर पोस्टमार्टम को भेज दिया।

=>