उत्तर प्रदेश में फानी का असर, आकाशीय बिजली गिरने से पांच जनों की मौत

फानी तूफान का असर उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में भी नजर आने लगा है। गुरुवार देर शाम सूबे के अधिकांश हिस्सों में आंधी चलने के साथ गरज-चमक के साथ बारिश और ओलावृष्टि भी हुई। इसी क्रम में आकाशीय बिजली गिरने से चार लोगों की मौत हो गई और पांच घायल हो गए। जबकि सोनभद्र जिले में भी एक बालक की मौत हो गई। जिला प्रशासन अधिकारियों ने पीड़ित परिवारों को हर संभव मदद करने का भरोसा दिया है।

चंदौली जिले के साहबगंज थाना क्षेत्र के राम माड़ो गांव में तेज आंधी चलने और आकाशीय बिजली गिरने से 4 लोगों की मौत हो गई, जबकि 5 अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। उनका जिला चिकित्सालय में इलाज चल रहा है। चंदौली के पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह ने कहा कि इसे फानी का असर कहें या फिर तेज तूफान का असर, हमारे जिले के अलग-अलग थाना क्षेत्रों में चार लोगों की मौत हो गई, जबकि पांच अन्य लोग घायल हो गए हैं।

उन्होंने आगे बताया कि भूसीत पुरवा गांव के सिवान में गुरुवार शाम को आई तेज आंधी और बारिश के दौरान बिजली गिरने से बुल्लू सोनकर की झुलसने से मौत हो गई। वहीं शहाबगंज थाना क्षेत्र के राममाड़ो गांव में पेड़ गिरने से राजेश तिवारी की मौत हो गई। धरौली के मगरहीं गांव निवासी संतोष बियार की बिजली गिरने से जान चली गई। वहीं चंदौली के फुत्तुपुर गांव में इम्तियाज और उसका पुत्र रिजवान गांव में बांस काट रहे थे और इसी दौरान दोनों पर बिजली गिर पड़ी और दोनों झुलस गए। जिला अस्पताल में रिजवान की मौत हो गई।

मौसम विभाग लखनऊ केन्द्र से मिली जानकारी के अनुसार आज भी पूरे प्रदेश में कई स्थानों पर तेज हवाओं के साथ बूंदाबांदी और ओला गिरने की संभावना है। राजधानी के आसपास के जिलों में तेज हवाओं के साथ बारिश होने और ओले गिरने से खेतों में फसल को नुकसान पहुंचा है। इसके अलावा आम की फसल को भी नुकसान हुआ है। सीतापुर में बुधवार शाम धूलभरी आंधी के साथ बारिश हुई जबकि पिसावां क्षेत्र में कुछ स्थानों पर ओले गिरे थे।

=>